उत्तराखंडदेहरादूनस्वास्थ्य

एम्स ने जनजागरुकता अभियान के तहत लोगों को किया जागरूक

ऋषिकेश। एम्स के आउटरीच सेल के तत्वावधान में गठित कोविड-19 कम्यूनिटी टास्क फोर्स की ओर से मंगलवार को नगर क्षेत्र में कोरोना जनजागरुकता अभियान के तहत लोगों को कोविड-19 के दुष्प्रभावों को लेकर जागरुक किया गया। इस दौरान लोगों को मास्क व सेनिटाइजर का वितरण भी किया गया। लोगों को अवगत कराया गया कि अभी कोविड-19 का दुष्प्रभाव समाप्त नहीं हुआ है लिहाजा उन्हें इससे बचाव के लिए आवश्यक सावधानियां बरतने के साथ-साथ मास्क का नियमित उपयोग करना होगा व एक-दूसरे से अपेक्षित सामाजिक दूरी बरकरार रखनी होगी।

एम्स निदेशक पद्मश्री प्रोफेसर रवि कांत ने आउटरीच सेल की इस पहल की सराहना की। उन्होंने बताया कि इस महामारी के भयावह दौर में कुछ अन्य तरह की व्याधियां व मनोविकार उत्पन्न हो गए हैं। जिनके निस्तारण व जनजागरुकता के लिए इस तरह के सामुहिक प्रयासों की नितांत आवश्यकता है। निदेशक एम्स पद्मश्री प्रो. रवि कांत ने कहा कि कोविड-19 के साइड इफैक्ट्स की जानकारी आम जन को अवगत कराया जाना जरुरी है।

अखिल भारतीय आयुर्विज्ञान संस्थान एम्स ऋषिकेश के आउटरीच सेल की ओर से गठित कोविड-19 कम्यूनिटी टास्क फोर्स के तहत मंगलवार को त्रिवेणीघाट से आस्थापथ होते हुए एम्स ऋषिकेश तहत कोरोना के प्र​ति जनजागरुकता मुहिम चलाई गई। जिसमें स्थानीय लायंस क्लब, रोटरी क्लब ऋषिकेश, रोटरी क्लब सेंट्रल, टूर ऑपरेटिव एसोसिएशन आदि संगठनों के साथ साथ पुलिस एवं प्रशासन ने भी सहयोग किया। आउटरीच सेल के नोडल ऑफिसर डा. संतोष कुमार ने बताया कि कम्युनिटी टास्क फोर्स के गठन का उद्देश्य कोविड-19 से निपटने के लिए सभी लोगों को एक प्लेटफार्म पर लाकर कोरोना वायरस के दुष्प्रभावों के प्रति लोगों को जागरुक करना है। इस दौरान लोगों को कोविड के प्रति बरती जाने वाली जरुरी सावधानियों व इससे बचाव के उपाय सुझाए गए।

उन्होंने बताया कि कोरोना का दुष्प्रभाव अभी समाप्त नहीं हुआ है, लिहाजा लोगों को आवश्यक सावधानियां बरतने के साथ-साथ नियमिततौर पर मास्क व सेनिटाइजर का इस्तेमाल करना होगा साथ ही अपेक्षित सामाजिक दूरी बनानी होगी, तभी इसके संक्रमण से सुरक्षित रहा जा सकता है। उन्होंने सुबह व सांयकाल सैर पर निकलने वाले लोगों से एक-दूसरे से 6 फिट की दूरी बनाए रखने व मास्क पहनकर दौड़ लगाने व एक्सरसाइज करने से बचने का सुझाव दिया। इस दौरान टास्क फोर्स के सदस्यों ने जिन लोगों द्वारा मास्क नहीं पहना गया था उन्हें इसके लिए प्रेरित किया व जिन लोगों के पास मास्क नहीं थे उन्हें इनका वितरण भी किया गया। साथ ही लोगों को सेनिटाइजर वितरण के साथ साथ कोरोना वायरस के दुष्प्रभावों को लेकर जागरुक भी किया गया।

उन्होंने एम्स ऋषिकेश की पहल पर चलाई जा रही इस मुहिम में शामिल होकर लोगों को कोविड के प्रति जागरुक करने की इच्छुक संस्थाओं से अभियान में शामिल होने की अपील की गई है। उन्होंने बताया कि कोविड काल में संस्थान द्वारा लोगों की चिकित्सकीय सहायता के लिए ऑनलाइन सपोर्ट सिस्टम लागू किया गया है, जिसके तहत लोग हेल्पलाइन नंबर-18001804278, मोबाइल नंबर-7454989545 व 9621539863 पर संपर्क स्थापित कर चिकित्सकीय परामर्श ले सकते हैं। इस अवसर पर रोटरी क्लब सेंट्रल के अध्यक्ष हितेंद्र पंवार, रोटरी क्लब ऋषिकेश अध्यक्ष नितिन गुप्ता, लायंस क्लब के अध्यक्ष अभिनव गोयल, टूर ऑपरेटिव एसोसिएशन, उत्तराखंड के नवीन मोहन, आरंभ एक उम्मीद से जुड़े रजनीश शर्मा व संतोष पांडेय आदि मौजूद थे।

ड्राइविंग लाइसेंस और आरसी की हार्ड कॉपी रखने का झंझट खत्म

Leave a Comment!

error: Content is protected !!