​अल्मोड़ा। विकासखंड भैसियाछाना के कई ग्रामीण इलाकों में लंबे समय से शराब का अवैध धन्धा फल—फूल रहा है। क्षेत्र के कई जन प्रतिनिधियों और ग्रामीणों ने जिलाधिकारी को संबोधित ज्ञापन में शराब तस्करों के खिलाफ कठोर कार्रवाई करने की मांग की है।
ज्ञापन में कहा गया है कि एक तरफ जहां लॉकडाउन चल रहा है, वहीं शराब माफियाओं द्वारा अवैध रूप से गांवों में शराब पहुंचाई जा रही है। जिससे आम जन मानस बहुत आक्रोशित है। उन्होंने आरोप लगाया कि इस तस्करी के कारोबार में राजस्व विभाग के कई कर्मचारियों और होमगार्डों में भी मिलीभगत का अंदेशा है। उन्होंने कहा कि क्षेत्र में फल—फूल रहे अवैध शराब के कारोबार को लेकर क्षेत्रवासियों में तीव्र रोष बना हुआ तथा महिलाओं में भी बहुत नाराजगी है। उन्होंने जिलाधिकारी से शराब तस्करों पर कठोर कार्रवाई करने की मांग की। कहा कि यदि यह सब बंद नही हुआ तो जनता आंदोलन के लिए बाध्य होगी। उन्होंने आरोप लगाया कि मनीआगर जाल​बगड़ी, दलबैंड हनुमानगड़ी, कूमौली, ग्वाड़, पेटशाल, डुंगरी शिवालय मंदिर के पास, खौलसीर जमराड़ी बैंड के अंदर और नगरखान शराब तस्करी के प्रमुख केंद्र बन चुके हैं। ज्ञापन में ब्लाक प्रमुख भैसियाछाना खुशबू पांडे, प्रधान पेटशाल हरीश प्रसाद, क्षेत्र पंचायत सदस्य मनीआगर नरेंद्र प्रसाद, प्रधान कुमौली चंद्रा देवी, प्रधान सुपई बबली, क्षेत्र पंचायत सदस्य कुमौली पुष्पा देवी, प्रधान पांडेताली हीरा देवी, समाजिक कार्यकर्ता दीपक जोशी, भगवान सिंह नैनवाल आदि तमाम लोगों के हस्ताक्षर हैं।

https://www.creativenewsexpress.com/4-new-covid19-positive-cases-have-been-reported-in-uttarakhand-today/
- Advertisement -

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here