उत्तरकाशीउत्तराखंडचमोलीदेहरादूननैनीतालपिथौरागढ़रुद्रप्रयाग

ब्रेकिंग न्यूज : बारिश ने रोकी पहाड़ की लाइफ लाइन, केदारनाथ, बद्रीनाथ, यमुनोत्री, पिथौरागढ़ के सीमांत क्षेत्रों में आवागमन ठप

सांकेतिक फोटो

देहरादून/हल्द्वानी। राज्य के लगभग सभी जनपदों जोरदार बारिश हो रही है। चार धाम मार्गों के अवरूद्ध होने का क्रम शुरू हो गया है। कुमाऊं के सीमांत इलाकों में भी बारिश से भूस्खलन के कारण मार्ग बंद हो रहे हैं। एनएच-58 के तहत चमोली जनपद में कोहेड़, सोनला तथा पागलनाला पर मार्ग अवरूद्ध हो गया है। टिहरी में एनएच-58 तोताघाटी में बंद है। केदारनाथ मार्ग रुद्रप्रयाग में भीरी तथा बांसवाड़ा पर बंद है। उत्तरकाशी में यमुनोत्री मार्ग डाबरकोर्ट पर बंद है। पिथौरागढ़ में घाट-पिथौरागढ़ मार्ग तथा तवाघाट-सोबला मार्ग बंद है। चंपावत में टनकपुर-चंपावत मार्ग सिन्यारी के पास बंद है।

अल्मोड़ा में भतरोजखान-रामनगर मार्ग बंद है। टिहरी में कुमाल्डा चौकी से चंबा की ओर जाने वाला मार्ग अवरुद्ध हो गया है। सीमांत जनपद पिथौरागढ़ में घाट पिथौरागढ मार्ग घाट से 50 मीटर आगे पिथौरागढ़ की तरफ बंद हो गया है। इसी जनपद में थल-मुन्सयारी मार्ग हरड़िया में, अस्कोट-बलुवाकोट मार्ग लखनपुर गागरा में और जौलजीबी- मदकोट मार्ग चामी में भारी वाहनों के लिए अवरुद्ध है। पिथौरागढ़ में ही तवाघाट – पांग्ला मार्ग गस्कू और मलघट में, मदकोट-मुनस्यारी मार्ग भारी वाहनों के लिए और ओखला – अस्कोट मार्ग घिनोरा में अवरूद्ध है। उधर एनएच 107 केदारनाथ मार्ग रुद्रप्रयाग में सीतापुर रामपुर और मुनकटिया में अवरुद्ध है।

Leave a Comment!

error: Content is protected !!