— लैंडलाइन सेवा अभी ठप, इंतजाम चौकस करने के लिए युद्धस्तर पर काम
— कालिमा से पुती दीवारों, फर्शों व फर्नीचरों के बीच फिर बुना जा रहा संचार का ताना—बाना

— जल्द तंदरुस्त की जाएगी पूरी व्यवस्था—जीएम


अल्मोड़ा एक्सचेंज में सेवा बहाली के कार्य का जायजा लेते जीएस संजय प्रसाद।

सीएनई रिपोर्टर, अल्मोड़ा
यहां बीएसएनएल के दूरभाष केंद्र में अग्निकांड से ध्वस्त 04 जिलों की दूरसंचार व्यवस्था अब पटरी पर लौटनी शुरू हो गई है। लैंडलाइन सेवा को छोड़ नेट व मोबाइल सेवा बहाल हो गई है। अब बीएसएनएल से जुड़े मोबाइल घनघनाने लगे हैं और नेट सुविधा मिलने लगी है, हालांकि भारी नुकसान के चलते पहले जैसी पूरी व्यवस्था स्थापित करने में काफी वक्त लगने की संभावना है। बीएसएनएल के जीएम संजय प्रसाद समेत तमाम अधिकारी व्यवस्था को पटरी पर लाने के लिए यहां मोर्चा संभाले हुए हैं और युद्ध स्तर पर काम चल रहा है। अग्निकांड के भेंट चढ़े दूरभाष केंद्र के विभिन्न कार्यालयी व मशीनरी कक्षों की दीवारों, बचे खुचे फनीचर, फर्श व छत सभी जगह कालिमा पसरी हुई है।

गौरतलब है कि गत सोमवार रात यहां चर्च के पास​ स्थित चार जिलों की दूरसंचार सेवा का जिम्मा लिये भारत संचार निगम लिमिटेड (बीएसएनएल) के दूरभाष केंद्र में भीषण अग्निकांड हुआ। जिससे ​केंद्र की पूरी मशीनरी समेत बीएसएनएल दफ्तर के ​विभिन्न सेक्शन आग की भेंट चढ़ गये। अग्निकांड के बाद से अल्मोड़ा, बागेश्वर, पिथौरागढ़ व चंपावत जिलों में बीएसएनएल की सेवा ध्वस्त हो गई और यहां बीएसएनएल का कामकाज अचानक पटरी से नीचे उतर गया। महकमे के अधिकारी व कर्मचारी मुश्किल में आ गए। हालात ये हैं कि संचार से जुड़े महत्वपूर्ण लाइनों का जंजाल छिन्न—भिन्न हो गया। ​अग्निकांड के बाद अब दफ्तर की गली, कमरों व मशीनरी कक्षों में दीवारें, बचा फर्नीचर व फर्श कालिमा से आच्छादित है। हादसे के बाद आनन—फानन में हल्द्वानी से बीएसएनएल के जीएम संजय प्रसाद समेत अन्य अधिकारी यहां पहुंचे हुए हैं और व्यवस्था को पटरी पर लाने के लिए मोर्चा संभाले हुए हैं। गत दिवस से युद्ध स्तर पर किसी तरह पटरी पर लाने के लिए रात—दिन काम चल रहा है। कड़ी मशक्कत के बाद आज काफी हद तक संचार सेवा बहाल करने में सफलता प्राप्त कर ली गई है। मोबाइल व इंटरनेट सेवा मिलना शुरू हो गया हैं, हालांकि इसमें काम अनवरत जारी है। आग से जल चुकी मशीनें रातों—रात मंगाई गई हैं और फिटिंग चल रही है।
जल्द बहाल होगी पूरी सेवा: जीएम

बीएसएनएल के जीएम संजय प्रसाद ने सीएनई से मुलाकात में बताया कि काफी तेजी से व्यवस्था दुरुस्त करने का काम चल रहा है और काफी हद तक दूरसंचार सेवा बहाल कर दी गई है। सिर्फ लैंडलाइन व्यवस्था बहाल होना बांकी है। उन्होंने बताया कि मशीनें मंगा ली गई हैं और उनकी फिटिंग चल रही हैं। जल्द से जल्द पूरी व्यवस्था चौकस करने के भरसक प्रयास चल रहे हैं। उन्होंने बताया कि अग्निकांड में दूरभाष केंद्र का पावर प्लांट, बैटती सेटअप, इंटरनेट सर्वर, विलिंग राउटर, ट्रांसमिशन उपकरण व लैंडलाइन एक्सचेंज आदि जल चुके हैं। जिन्हें बदला जा रहा है। अग्निकांड के बाद से बीएसएनएल दफ्तर में आफलाइन बिलिंग ठप पड़ी है।
इतने उपभोक्ता प्रभावित

बीएसएनएल के दूरभाष केंद्र अल्मोड़ा में अग्निकांड से बड़ी संख्या में चार जिलों के उपभोक्ता प्रभावित हुए हैं। बीएसएनएल के जीएम संजय प्रसाद ने बताया कि केंद्र से करीब 2 लाख मोबाइल उपभोक्ता, लगभग 5000 फाइबर सेवा से जुड़े उपभोक्ता व करीब 3000 लैंड लाइन उपभोक्ता जुड़े हैं।

Advertisement

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here