⏩ 05 गुना रॉयल्टी बढ़ाना बेरोजगार करने की साजिश

सीएनई रिपोर्ट, अल्मोड़ा

ठेकेदार संघ अल्मोड़ा ने प्रदेश सरकार को भेजे ज्ञापन में पांच गुना रॉयल्टी बढ़ाये जाने के शासनादेश को ठेकेदार-मजदूरों के हितों के विपरीत व उनको बेरोजगार कर देने का माध्यम बताते हुए अविलंब वापस लेने की मांग की है। ऐसा नहीं किये जाने पर 02 अगस्त से लोनिवि कार्यालय के बाहर से धरना-प्रदर्शन करने का ऐलान किया है।

ठेकेदार संघ अल्मोड़ा ने अधीक्षण अभियन्ता, प्रथम वृत्त, लो०नि०वि०, अल्मोड़ा के माध्यम से उत्तराखण्ड शासन को भेजे गए ज्ञापन में पांच गुना अधिक रॉयल्टी का शासनादेश निरस्त करने की मांग की है। ज्ञापन में कहा गया है कि अल्मोड़ा निर्माण विभागों में पंजीकृत ठेकेदार इस नए शासनादेश से खासे आहत हैं। उन्होंने कहा कि उत्तराखण्ड शासन ने निर्माण कार्यों में लगने वाली उप खनिजों में पांच गुना अधिक रॉयल्टी वसूलने का शासनादेश जारी किया है, जो अन्यायपूर्ण है। उन्होंने व्यवहारिक दिक्कत का उदाहरण प्रस्तुत करते हुए कहा कि दीवार निर्माण की फीलिंग में रूपये 860 प्रति/घन मीटर सरकार उन्हें मूल्य देती है। उक्त शासनादेश के अनुसार 01 घन मीटर में रूपये 1000 प्रति घन मी० ठेकेदारों से वसूलने का शासनादेश जारी किया गया है। इन हालातों में उनक समक्ष ठेकेदारी छोड़ने के अलावा अन्य कोई विकल्प नही बचा है, जिससे वह तो बरोजगार होंगे ही साथ ही उनके साथ हजारों मजदूर भी बेरोजगार होकर भुखमरी की कगार पर आ जायेंगे। ऐसे हालातों में पलायन के अतिरिक्त अन्य कोई विकल्प नही होगा। उन्होंने इस शासनादेश को अन्यायपूर्ण बताते हुए अविलम्ब जनहित में वापस लेने की मांग की।


ठेकेदारों ने कहा कि वर्तमान समय में समयवृद्धि, विचलन एवं अतिरिक्त मद स्वीकृति हेतु भी ठेकेदारों को बहुत परेशान किया जा रहा है। ठेकेदारों के पंजीकरण नवीनीकरण में ठेकेदार को परेशान करने की नियत से नई-नई प्रकार की समस्याऐं उत्पन्न करा दी गयी हैं, जिससे ठेकेदार पंजीकरण नवीनीकरण हेतु अत्यधिक परेशान है। अतः नये नियमों में निरस्त कर पूर्व व्यवस्था लागू करायी जाय। चेतावनी दी कि न्यायोचित मांगे न माने जाने की दशा में हम ठेकेदार 02 अगस्त से कार्यालय अधीक्षण अभियन्ता, प्रथम वृत्त, लोनिवि, अल्मोड़ा के बाहर धरना-प्रदर्शन करेंगे। ज्ञापन देने वालों में कार्यकारी अध्यक्ष सुरेन्द्र बेलवाल, संयुक्त सचिव, ठेकेदार संघ, अल्मोड़ा नवाज खान, मीडिया प्रभारी पूरन पालीवॉल, रोहित रौतेला, जितेंद्र कुमार, गौरव वर्मा आदि शामिल रहे।

- Advertisement -

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here