सीएनई रिपोर्टर, बागेश्वर
समायोजन व सेवा विस्तार की मांग को लेकर आंदोलित उपनल कर्मियों का सब्र का बांध अब टूटने लगा है। नाराज कर्मचारियों ने बुधवार को नुमाईशखेत से स्वास्थ्य मंत्री के पुतले की शव यात्रा निकालकर आक्रोश का इजहार किय और एसबीआई तिराहे पर पुतला फूंका। चेतावनी दी कि यदि उनकी मांग जल्दी पूरी नहीं हुई तो उग्र आंदोलन किया जाएगा।

पूर्व निर्धारित कार्यक्रम के अनुसार उपनल कर्मी बुधवार को नुमाईशखेत में एकत्रित हुए। जहां से विरोध स्वरूप स्वास्थ्य मंत्री धन सिंह रावत के पुतले की शवयात्रा निकाली। विभिन्न मार्गों व चौराहों से होते हुए उपनल कर्मी एसबीआई तिराहे पर पहुंचे, जहां पुतला फूंका और सभा की। सभा में वक्ताओं ने कहा कि उन्होंने कोरोना काल में सरकार ने उन्हें जो भी जिम्मेदारी दी, उसे बखूबी निभाया। अब सरकार सेवा विस्तार करने के बजाय बात करने तक को तैयार नहीं है। वह डेढ़ महीने से आंदोलन की राह पर हैं, लेकिन कोई भी जनप्रतिनिधि उनके पास नहीं आया।

इस तरह की मनमर्जी कतई सहन नहीं होगी। एक सप्ताह के भीतर यदि मांग नहीं मानी गई तो उग्र आंदोलन होगा। इस मौके पर यशोदा, रेखा, मेघा परिहार, पूजा कन्नोजिया, आनंद प्रसाद, बलवंत सिंह, उमेश,सोहन सिंह, हराीश गिरी, पंकज कुमार, कमल प्रसाद, सुरेश चंद्र, दीपा, चंदन, पूजा तथा संजय कन्नोजिया आदि मौजूद रहे।


- Advertisement -

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here