उत्तराखंडकारोबारजन समस्याबागेश्वरसी एन ई विशेष

वाह डीएम हो तो ऐसे: असामाजिक तत्वों ने तोड़ दी थी रेहड़ी, डीएम ने तुरंत करवाई गरीब की मदद, धंधा शुरू

बागेश्वर। जिलाधिकारी विनीत कुमार ने जनपद बागेश्वर के सिमीनरगोल गांव के प्रवासी सुनील कुमार पुत्र प्रेम राम की रेहड़ी/ठेला तोडे जाने के प्रकरण को गम्भीरता से लेते हुए तत्काल कार्यवाही कर प्रवासी सुनील कुमार को न केवल रेहड़ी एवं विक्रय किये जाने वाली सामग्री आदि उपलब्ध करायी बल्कि व्यक्तिगत रूप से प्रवासी सुनील कुमार से मिलकर उनकी विभिन्न समस्यायें आदि का निराकरण भी किया। जिलाधिकारी ने प्रकरण की गम्भीरता के दृष्टिगत उप जिलाधिकारी बागेश्वर को कड़े निर्देश दिये है कि जिन असमाजिक तत्वों द्वारा इस प्रकार का कृत्य किया गया है उनके विरूद्ध कठोर से कठोर कार्यवाही अमल में लायी जाय, ताकि जनपद में इस प्रकार के कृत्य की पुनरावृत्ति नहीं हो।
जिलाधिकारी ने इस दौरान कहा कि जिला प्रशासन इस बात के लिए प्रतिबद्ध है कि प्रवासियों को रोजगार के बेहतर से बेहतर अवसर उपलब्ध कराये जाय एवं रोजगार हेतु उन्हें प्रेरित भी किया जाय। उन्होंने कहा कि इस हेतु संचालित की जा रही मुख्यमंत्री स्वरोजगार जैसी महत्वकांक्षी योजना एवं सरकार के विभिन्न आजीविका परद योजनाओं का लाभ प्रवासियों को अनिवार्य रूप से मिले। उन्होंने प्रवासियों के रोजगार संवर्द्धन हेतु कार्य कर रहे विभिन्न विभागों के अधिकारियों को कड़े निर्देश जारी करते हुए कहा कि वे यह सुनिश्चित करें कि जनपद में कोराना वायरस संक्रमण के दौरान आने वाले सभी प्रवासियों को सरकार द्वारा चलार्इ जा रही विभिन्न आजीविका परद एवं जन कल्याणकारी योजनाओं का लाभ नियत समय के अन्तर्गत अनिवार्य रूप से मिले जिसमें किसी प्रकार की लापरवाही क्षम्य नहीं होगी।
जिला प्रशासन द्वारा रेहड़ी/ठेला एवं उसके माध्यम से विक्रय की जाने वाली सामग्री आदि नि:शुल्क उपलब्ध कराये जाने पर सुनील कुमार एवं उनके पिता प्रेम राम ने जिला प्रशासन का आभार व्यक्त करते हुए कहा कि जिला प्रशासन द्वारा जिस तत्परता के साथ कार्यवाही की गयी है उसके लिए वे सदैव आभारी रहेंगे। उन्होंने जिलाधिकारी एवं मा0 मुख्यमंत्री का पुन: रोजगार का अवसर उपलब्ध कराने हेतु आभार व्यक्त किया। इस अवसर पर जिलाधिकारी ने सिमीनरगोल क्षेत्र के प्रधान एवं ग्रामीणों से भी संवाद कर उनकी समस्याओं आदि की भी जानकारी ली। इस दौरान यहॉ आये हुए प्रवासियो को मुख्यमंत्री स्वरोजगार योजना एवं अन्य रोजगारपरद योजनाओं के बारे में विस्तारपूर्वक जानकारी भी दी गयी।
उल्लेखनीय है कि जनपद में आये कुल प्रवासियों में से 5290 प्रवासियों द्वारा जनपद अन्तर्गत रोजगार करने की इच्छा जतायी गयी है जिसमें से 3970 लोगों को विभिन्न विभागों के माध्यम से रोजगार भी उपलब्ध कराया जाय चुका है तथा शेष 1320 लोगों को रोजगार उपलब्ध कराने की कार्यवाही युद्ध स्तर पर गतिमान है। जिस संबंध में जिलाधिकारी द्वारा संबंधित विभागों को कड़े निर्देश जारी किये है कि संबंधित विभाग प्रवासियों को रोजगार उपलब्ध कराने को सुनिश्चित करने के दृष्टिगत प्रत्येक सप्ताह अपने विभाग से संबंधित रोजगार उपलब्ध कराने के संबंध में प्रगति आख्या जिला कार्यालय को उपलब्ध करायेंगे, ताकि चरणबद्ध रूप से कार्यवाही करते हुए जनपद के समस्त प्रवासियों को रोजगार के साधन उपलब्ध हो सके।
इस दौरान उप जिलाधिकारी बागेश्वर राकेश चन्द्र तिवारी, जिला पूर्ति अधिकारी अरूण कुमार वर्मा, तहसीलदार बागेश्वर नवाजिश खलीक, एई पीडब्लूडी वीजेन्द्र, प्रधान भुवन सिंह टंगडिया, दिनेश टंगडिया आदि मौजूद रहे।

Leave a Comment!

error: Content is protected !!