हल्द्वानी ब्रेकिंग : नौकरी देने के नाम पर सेना के रिटायर मेजर को ठगने वाला नोएडा से गिरफ्तार

7

📰 खबरों के लिए जुड़े व्हाट्सप्प ग्रुप से 👉 Click Now 👈

हल्द्वानी । हल्द्वानी के करायल जौलासाल निवासी सेना के रिटायर्ड मेजर को नौकरी दिलाने के नाम पर आन लाइन ठगी करने वाले ठग को एसओेजी और हल्द्वानी पुलिस की संयुक्त टीम ने दबोच लिया है।
मिली जानकारी के अनुसार गत वर्ष 10 दिसंबर को सेना को ग्राम करायल जौलासाल निवासी सेना के रिटायर्ड मेजर भुवन चन्द्र भट्ट ने कोतवाली में आकर तहरीर दी कि उन्होंने नौकरी डौट काॅम पर नौकरी हेतु आनलाइन आवेदन किया गया था। इसके बाद उनके मोबाईल पर अज्ञात व्यक्ति ने फोन करके बताया कि वह नौकरी डाट काम का कर्मचारी है। उसने धोखाधड़ी से 30 हजार रूपये अज्ञात व्यक्ति के खाते में डलवा लिए।तहरीर के आधार पर कोतवाली हल्द्वानी में मुकदमा पंजीकृत कर एसआई संजीत कुमार को जांच सौंपपी गई। इस अपराध को खोलने के लिए एसओजी नैनीताल को भी हल्द्वानी पुलिस के साथ संयुक्त टीम बनाकर कार्रावाई करने के निर्देश दिए गए। टीम ने छजारसी कालोनी एसजेएम हास्पिटल के पास सेक्टर-63 नोएडा थाना फेस-3 जिला गौतम बौद्व नगर मे डिजिल ट्री स्पेस प्राइवेट लिमिटेट नामक कम्पनी पर छापा मार कर उपरोक्त कम्पनी के डायेरेक्टर व मालिक रवि जैन पुत्र प्रकाश चन्द्र जैन को गिरफ्तार कर लिया। पूछताछ में रवि जैन ने बताया कि वह खोड़ा सेक्टर 62 ए राजीव विहार में डिजिटल ट्री स्पेस प्राइवेट लिमिटेड कम्पनी चलाता है। वह इस ऑफिस को वर्ष 2018 माह अक्टूबर से लगातार चला रहा है। जिसमें उसने एन्ट्री आपरेटर के रुप में पूजा गुप्ता, रौशनी गुप्ता पुत्रीगण राम चन्द्र गुप्ता एंव आनन्द भारती पुत्र रतन भारती को रखा है। जो उसके कहने से बेरोजगार लोगों का बायोड़ाटा कम्प्यूटर में अपलोड करते थे।
देखिए— खरी—खरी : अपनी ही सरकारों से बंशीधर भगत की नाफरमानी

उसने अपने कार्यालय में इस काम के लिये लैपटॉप, वाई फाई सिस्टम रखे हैं, जिन पर वह बारी बारी monsterindia-com वेब साइट के माध्यम से नौकरी डाट काम आदि वेबसाइटों से बेरोजगार लोगों का डेटा उठा लेता था और मोबाईल फोन से आवेदको को कॉल कर उनको गुमराह करता था। वह नौकरी लगवाने व रजिस्ट्रेशन के नाम पर लोगों से अलग अलग खातों में रुपये जमा कराता था। लोग हमारे खाते में रुपये जमा कर लेते थे अब तक करीब 10 लाख रुपये से ऊपर की धनराशि उसने इसी तरह से ठगी करके जुटाई है। लोगों द्वारा जमा करायी रकम बड़ी ना होने के कारण कोई हमारे खिलाफ मुकदमा नही लिखवाते थे। किन्तु मुझे दिसम्बर प्रथम सप्ताह में मुझे पता लगा कि हल्द्वानी के भूवन चन्द्र भट्ट फौजी ने भी नौकरी डॉट काम पर आवेदन किया है। उसने मेजर भट्ट से 4-5 बार में करीब 30 हजार रुपये की धनराशि रचना शर्मा के खाते में डलवाए। जिसका एटीएम व चैक बुक वह पहले भी इस्तेमाल कर चुका था। पुलिस ने यह एटीएम व चेक बुक भी बरामद कर लिए हैं। उसने मेजर द्वारा भेजी गई रकम अगले ही दिन रचना के खाते से निकाल लीफ। इसमें से 21 हजार रुपये पुलिस ने उसके हवाले से बरामद कर लिए। उसने बताया कि उसके कार्यालय में कार्यरत दो युवतियों व एक युवक का इस गोरखधंधे में कोई हाथ नहीं है।
उसे गिरफ्तार करने वाली टीम में एसओजी के प्रभारी निरीक्षक मनोज रतूड़ी, हल्द्वानी कोतवाली के एसआई संजीत राठौर, एसओजी के हवलदार दीपक अरोड़ा, कोतवाली हल्द्वानी के जवान वीरेन्द्र चौहान व महिला कांस्टेबल सुनीता शामिल हैं। जैन के हवाले से पुलिस ने एचपी के तीन लैपटाप, एक टीपी लिंक कंपनी का राउटर,एक पावर कनेक्टर, अलग अलग बैंकों के नौ एटीएम कार्ड, सैमसंग कंपनी के पांच की-पैड मोबाइल फोन,एक एमआई कंपनी का मोबाइल फोन और 21 हजिार रुपये की लगदी बरामद की है।

Previous articleALMORA NEWS: एसएसपी ने प्रतिबंधित दवाओं की बिक्री की मनाही की और नशे के खिलाफ अभियान के लिए मांगा सहयोग
Next articleब्रेकिंग न्यूज : क्रिकेटर यूसुफ पठान ने सभी फार्मेट के क्रिकेट को कहा अलविदा, बोले — सभी का धन्यवाद

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here