अयोध्या। उत्तर प्रदेश माध्यमिक शिक्षक संघ शर्मा गुट जिला इकाई अयोध्या द्वारा मुख्यमंत्री आदित्यनाथ योगी और उप मुख्यमंत्री तथा शिक्षा मंत्री दिनेश शर्मा से आगामी 12 मई से ऑरेंज जोन में भी हाईस्कूल और इंटरमीडिएट के मूल्यांकन कराए जाने के आदेश पर फिर से विचार करने की मांग की है। जिला अध्यक्ष राकेश पांडे मंडली अध्यक्ष रामानुज तिवारी जिला मंत्री आलोक तिवारी जिला उपाध्यक्ष तथा मीडिया प्रभारी संजीव चतुर्वेदी ने कहा कि एक तरफ केंद्रीय मानव संसाधन विकास मंत्री सीबीएससी बोर्ड के छात्रों की परीक्षाएं जुलाई में कराने की बात कर रहे हैं तथा कॉपियों को शिक्षकों के घर पर जांचने के लिए भेजा जायेगा तो फिर यूपी बोर्ड में ऐसा क्यो नहीं किया जा रहा है उनके साथ आखिर दोहरा मापदंड क्यो अपनाया जा रहा है। वैश्विक महामारी कोरोना पूरे देश में तेजी के साथ फ़ैल रहा और खुद प्रधानमंत्री दो गज की दूरी जरूरी बता रहे हैं। साथ ही 60 वर्ष से अधिक आयु बाले शिक्षकों के संक्रमित होने का भी खतरा है जिनकी कापी जांचने में ड्यूटी लगी है और संसाधनों के न चलने के कारण महिला शिक्षिकाओं को भी भारी असुविधा का सामना करना पड़ेगा। जबकि घरों पर कापियों के मूल्यांकन कराने से कापियां जल्द जांच तथा शिक्षक भी सुरक्षित रहेंगे। इसलिए परीक्षकों के जीवन की सुरक्षा को दृष्टिगत रखते हुए आगामी 12 मई से मूल्यांकन कराने का आदेश वापस लेने पर पुनर्विचार करे।

- Advertisement -

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here