उत्तराखंडकोविड-19नैनीताल

नैनीताल ब्रेकिंग : जेल में बाहरी बंदियों के आगमन पर प्रतिबंध

नैनीताल। जिलाधिकारी एवं जिला मजिस्ट्रेट सविन बंसल ने वर्तमान में कोविड-19 संक्रमण के प्रसार पर नियंत्रण एवं जनपद नैनीताल हेतु जिला कारागार नैनीताल को घोषित कोरोना डिटेंशन सेंटर में दिये गये निर्देशानुसार चिकित्सकीय व्यवस्थाएं सुनिश्चित किये जाने हेतु जनहित के दृष्टिगत अन्य जनपद के बन्दियों को जिला कारागार नैनीताल में निरूद्ध किये जाने हेतु अग्रिम आदेशों तक प्रतिबन्धित किया है।

इस अवधि में स्वास्थ्य विभाग द्वारा स्क्रीनिंग एवं चिकित्सीय परीक्षण, सम्पर्क व्यक्ति की पहचान, प्राईमरी व्यक्तियों के कान्टेक्ट, प्राईमरी कान्टेक्ट के आईसोेलेशन, चिकित्सीय परीक्षण एवं आवश्यकतानुसार सैम्पल लिये जाने एवं सैम्पलों के प्राप्त परिणामों के आधार पर आंकलन किये जाने के उपरान्त प्रतिबन्धो में छूट प्रदान की जायेगी।

डीएम ने दिए पांच सौ नए आक्सीजन सिलेंडर खरीदने के निर्देश, खाली सिलेंडर भी तुरंत भरने को कहा

गौरतलब है कि जिला कारागार नैनीताल में निरूद्ध 70 विचाराधीन बन्दीगणों की आरटीपीसीआर जाॅच में 53 बन्दियों की रिपोर्ट कोरोना पाॅजीटिव पायी गयी थी। जिसके पश्चात जिलाधिकारी नैनीताल के आदेशानुसार इंसीडेंट रेस्पोंस सिस्टम के अन्तर्गत गठित इंसीडेंट रेस्पोंस टीम द्वारा जिला कारागार नैनीताल में रह रहे बन्दियो एवं व्यक्तियों के स्वास्थ्य हित में तथा आम जनमानस में कोविड-19 के प्रसार की प्रबल संभावना होने के दृष्टिगत

एवं कोविड-19 के प्रसार की रोकथाम हेतु तत्काल प्रभाव से मुख्य धारा से पृथक किये जाने के साथ ही जिला कारागार परिक्षेत्र को अग्रिम आदेशों तक समस्त प्रकार की गतिविधियों को स्थगित रखते हुए किसी भी प्रकार के आवागमन हेतु बन्द किया जाना तथा अन्य जनपदों से आने वाले सिद्धदोष बन्दियों एवं निरूद्ध बन्दियों के जेल परिसर में आने पर भी सुरक्षा की दृष्टि से रोक लगाये जाने की संस्तुति की गयी थी।

देहरादून : राजपुर रोड पर तेज रफ्तार डंपर डिवाइडर पर चढ़ा, क्लीनर के पैर कटे

शासन द्वारा जारी निर्देशानुसार प्रदेश में स्थित कारागारों में कोरोना वायरस से पीड़ित व्यक्तियों के जेल के अन्दर प्रवेश करने से पूरी जेल में सभी कैदियों में संक्रमण होने की सभावना को रोकने हेतु तत्काल प्रत्येक जनपद में कोरोना प्रीवेंटिव डिटेंशन सेंटर 100 से 200 क्षमता वाले चिन्हित कर खोले जाने तथा पुलिस द्वारा गिरफ्तार किस भी व्यक्ति को एक माह तक कोरोना प्रीवेंटिव डिटेंशन सेंटर में रखे जाने तथा तत्पश्चात कोरोना वायरस से पीड़ित न होने पर उसे जेल में शिफ्ट किये जाने हेतु कोरोना प्रीवेंटिव डिटेंशन सेंटर स्थापित किये गये हैं। महानिरीक्षक कारागार द्वारा जनपद नैनीताल हेतु जिला कारागार नैनीताल को कोरोना प्रीवेंटिव डिटेंशन सेंटर घोषित किया गया है।

Leave a Comment!

error: Content is protected !!