सांकेतिक फोटो

रामनगर अपडेट। अब बाजार में फर्जी सिम का भी खेल खेला जा रहा है, यहां रामनगर पुलिस ने किसी और आईडी पर BSNL के सिम एक्टिवेट कराकर संदिग्धों व अपराधियों को बेचने के मामले में एक आरोपी को गिरफ्तार किया गया है। आरोपी रामनगर, बाजपुर व काशीपुर में सिम बिकवाने का काम करता था। इसके लिए उसने रामनगर में अपना ऑफिस भी खोला था। पुलिस ने आरोपी को कोर्ट में पेश करने के बाद जेल भेज दिया है।

कोतवाल अरुण कुमार सैनी ने बताया…

गुरुवार को कोतवाल अरुण कुमार सैनी ने बताया कि वंदना चौधरी एसआई साइबर पुलिस स्टेशन रुद्रपुर की तहरीर पर थाना रामनगर में सचिन अग्रवाल के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर जांच की गई। सचिन अग्रवाल निवासी थाना मुगलपुरा जिला मुरादाबाद यूपी ने बंसल कॉम्प्लेक्स रामनगर में 2013 में मैगनम इण्डिया प्राइवेट लिमिटेड कम्पनी नाम से ऑफिस खोला था। आरोपी को BSNL की फ्रेंन्चाइजी मिली थी। वह रामनगर, काशीपुर और बाजपुर क्षेत्रों में अपने कर्मचारी नियुक्त कर BSNL के सिम बेचता था।

आरोपी ने मनीष रस्तोगी निवासी मुगलपुरा मुरादाबाद को अपना पार्टनर और उसके जरिये रंजीत सिंह निवासी बाजपुर यूएस नगर, पवन कुमार, रोहिताश अग्रवाल नाम के युवकों को काम पर रखा। इसके लिए उनसे उनकी आईडी और फोटो भी ले लिए। आरोप है कि पहले युवकों से सिम बिकवाए और बाद में उनकी आईडी पर ही सिम एक्टिवेट कराकर संदिग्धों को बेचे गए। आरोपी ने किन-किन लोगों को गलत तरीके से सिम बेचे हैं, इसकी जानकारी जुटाई जा रही है।


अल्मोड़ा : बिजली के पोल से नीचे ट्रांसफार्मर पर गिरा लाइनमैन, दर्दनाक मौत

- Advertisement -

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here