हल्द्वानी। राष्ट्रीय राजमार्ग पर स्थित निर्माणाधीन काठगोदाम कलसिया पुल के निर्माणाधीन होने के कारण गुरुवार 14 अप्रैल से रविवार 17 अप्रैल तक जनपद नैनीताल का रूट डायवर्जन प्लान लागू किया गया है।

➡️ समस्त सम्मानित जनता/वाहन चालकों/पर्यटकों से अनुरोध है कि असुविधा/जाम से बचने के लिए चंपावत, लोहाघाट, पिथौरागढ़ जाने वाले भारी व हल्के वाहन बाया चोरगलिया, सितारगंज, टनकपुर मार्ग का प्रयोग करें तथा नैनीताल, अल्मोड़ा भवाली जाने वाले छोटे वाहन बाया कालाढूंगी, मंगोली, नैनीताल मार्ग का प्रयोग करें एवं अल्मोड़ा भवाली जाने वाले भारी वाहन कालाढूंगी मंगोली रूसी बाईपास ज्योलीकोट नंबर 1 बैंड से भवाली अल्मोड़ा मार्ग का प्रयोग करें।

➡️ चोरगलिया रोड से आने वाले सितारगंज, खटीमा, टनकपुर के वाहन, जिनको नैनीताल, अल्मोड़ा भवाली जाना है, कुंवरपुर तिराहा/खेड़ा तिराहा चोरगलिया रोड से बाया गौला बाईपास रोड, मोतीनगर तिराहा से रामपुर रोड से पंचायतघर तिराहा से कालाढूंगी मार्ग का प्रयोग बाया कालाढूंगी, मंगोली, रूसी बाईपास ज्योलीकोट नंबर 1 बैंड से भवाली अल्मोड़ा मार्ग का प्रयोग करें।


➡️ यह मार्ग रात्रि 10 बजे से प्रातः 5 बजे तक भारी वाहनों के लिए भी खुला रहेगा। News WhatsApp Group Join Click Now
➡️ नैनीताल, मुक्तेश्वर, भवाली, भीमताल, बेतालघाट को जाने वाले आवश्यक वस्तुओं के भारी वाहन रात्रि 10 बजे से प्रातः 5 बजे तक की अवधि में आवागमन के लिए प्रयोग कर सकते हैं।
➡️ छोटे वाहनों के आवागमन के लिए मार्ग खुला रहेगा। सभी यात्रिगण से अनुरोध है कि असुविधा/जाम से बचने के लिए अपनी लेन का प्रयोग करें। ओवरटेक न करें।

➡️ पहाड़ी क्षेत्रों से आने वाले भारी वाहन नारीमन तिराहा, काठगोदाम से गौलापार होते हुए हल्द्वानी में प्रवेश करेंगे।
➡️ जनता की सुविधा को देखते हुए निर्माणाधीन पुल में यातायात के सुचारू संचालन हेतु पर्याप्त पुलिस बल की ड्यूटी लगायी गयी है। कृपया आप सभी से अनुरोध है कि यातायात के नियमों का पालन करते हुए नैनीताल पुलिस का सहयोग करें।

बधाई : चंपावत की गुंजन कुंवर के सिर सजा मिस उत्तराखंड का ताज, काशीपुर की शिखा उपविजेता

Haldwani : बेलबसानी-पटवाडांगर मोटर मार्ग नैनीताल के लिए नया रूट, जल्द होगा तैयार

उत्तराखंड में महंगा हुआ हवाई सफर, हल्द्वानी-देहरादून और पिथौरागढ़ के लिए देना होगा इतना किराया

- Advertisement -

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here