उत्तराखंड में इगास पर्व पर रहेगा सार्वजनिक अवकाश, आदेश जारी

देहरादून| उत्तराखंड के लोकपर्व इगास-बग्वाल को लेकर मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने अवकाश की घोषणा की है। यह दूसरा मौका है जब उत्तराखंड में लोकपर्व इगास को लेकर राजकीय अवकाश घोषित किया गया है। इससे पूर्व पिछले वर्ष भी मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने इगास-बग्वाल पर राजकीय अवकाश की घोषणा की थी।

मुख्यमंत्री ने कहा कि इगास-बग्वाल उत्तराखंड वासियों के लिए एक विशेष स्थान रखती है। यह हमारी लोक संस्कृति का प्रतीक है। हम सब का प्रयास होना चाहिए कि अपनी सांस्कृतिक विरासत और परंपरा को जीवित रखें। नई पीढ़ी हमारी लोक संस्कृति और पारम्परिक त्योहारों से जुड़ीं रहे, ये हमारा उद्देश्य है।

मुख्यमंत्री ने ट्वीट कर लिखा, “आवा! हम सब्बि मिलके इगास मनोला नई पीढ़ी ते अपणी लोक संस्कृति से जुड़ोला। लोकपर्व ‘इगास’ हमारु लोक संस्कृति कु प्रतीक च। ये पर्व तें और खास बनोण का वास्ता ये दिन हमारा राज्य मा छुट्टी रालि, ताकि हम सब्बि ये त्योहार तै अपणा कुटुंब, गौं मा धूमधाम से मने सको। हमारि नई पीढी भी हमारा पारंपरिक त्यौहारों से जुणि रौ, यु हमारु उद्देश्य च।”


पहाड़ में दिवाली के 11 दिन बाद मनाया जाता है इगास पर्व

बता दें कि दिवाली के 11 दिन बाद पहाड़ में एक ओर दिवाली मनाई जाती है, जिसे इगास कहा जाता है। इस दिन प्रातकाल मीठे पकवान बनाए जाते हैं और शाम को भैलो जलाकर देवी-देवताओं की पूजा की जाती है।

WhatsApp का सर्वर हुआ बहाल, लगभग सवा घंटे परेशान रहे यूजर्स

Advertisement

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here