अल्मोड़ाउत्तराखंडजन समस्या

अल्मोड़ा न्यूज : श्रमिकों की मनमानी मजदूरी से कांग्रेसजनों में उबाल, मामूली कार्यों के लिए दोगुने से अधिक वसूली, ईओ नगर पालिका को सौंपा ज्ञापन

सीएनई रिपोर्टर, अल्मोड़ा

नगर क्षेत्र व आस—पास के क्षेत्रों में श्रमिक वर्ग, जिनमें राजमिस्त्री, लेबर, नेपाली श्रमिक, पेंटर आदि आदि हैं कि मजदूरी दर तय नही हो पाने से आम जनता को परेशानियां झेलनी पड़ रही हैं। हालत यह है कि श्रमिक मनमाने ढंग से अपने रेट जब—तब बढ़ा रहे हैं, मामूली कार्य के लिए दोगुने से अधिक रकम वसूली जा रही है। जन हित से जुड़े इस ज्वलंत मुद्दे को लेकर कांग्रेसजनों ने आज नगर पालिका में अधिशसी अधिकारी से मुलाकात की और उन्हें ज्ञापन सोंपकर तत्काल सभी श्रमिकों मजदूरी दर तय कर सूची सार्वजनिक करने की मांग की। ज्ञापन में कांग्रेसजनों ने कहा है कि अल्मोड़ा नगर सहित आस—पास के क्षेत्रों में राजमिस्त्रियों, लेबरों, नेपाली श्रमिकों, कारपेन्टरों, गाड़ी ढोने वाले श्रमिकों, लेन्टर डालने वाले मजदूरों, रंग—चूना करने वाले मजदूरों द्वारा मनमाने तरीके से जनता से मजदूरी ली जा रही है, जो कि गलत है। कांग्रेसजनों ने कहा कि इस कोरोनाकाल में श्रमिक लोगों की मजबूरी का फायदा उठा कर दोगुनी मजदूरी तक वसूल कर रहे हैं जो एक तरह से अवैध है। कांग्रेसजनों ने अधिशासी अधिकारी से मांग की है कि 15 दिन के भीतर सभी श्रमिकों की मजदूरी तय कर सूची सार्वजनिक की जाए। इस अवसर पर कांंग्रेस जिला प्रवक्ता राजीव कर्नाटक ने कहा कि दूरी के हिसाब से नगर पालिका सामान ले जाने वाले मजदूरों की मजदूरी तय करे। इसके साथ ही गैस सिलेन्डर ढोने वाले मजदूरों की मजदूरी भी दूरी के हिसाब से तय कर दी जाए। उन्होंने कहा कि राजमिस्त्रियों, लेबरों की प्रतिदिन की मजदूरी भी तय की जाए ताकि श्रमिक तय मजदूरी से ज्यादा मजदूरी लोगों से ना वसूल कर सके। उन्होंने कहा कि भवन निर्माण सामग्री ईंट, पत्थर, रेता, कंकड़, लोहा उतारने वाले श्रमिकों की मजदूरी भी गाड़ी और दूरी के हिसाब से तय कर दी जाए ताकि अराजकता का माहौल उत्पन्न ना हो। उन्होंने कहा कि कई बार देखा गया है कि नेपाली श्रमिक स्टेशन से कुछ दूरी तक एक अटैची मात्र ले जाने के लोगों से सौ रूपये तक वसूल रहे हैं, जो कि गलत है। उन्होंने कहा कि मजबूरी में वरिष्ठ नागरिकों, महिलाओं को श्रमिकों को उनकी मुंहमांगी मजदूरी देनी पड़ती है। उन्होंने कहा कि शीघ्र ही श्रमिकों की मजदूरी तय होनी चाहिए तथा उसके उपरान्त भी जो श्रमिक तय मजदूरी से अधिक मजदूरी मांगते हैं उनके खिलाफ कार्यवाही भी होनी चाहिए। ज्ञापन देने वालों में जिलाध्यक्ष पीताम्बर पान्डेय,कांंग्रेस नगर अध्यक्ष पूरन सिंह रौतैला, जिला प्रवक्ता राजीव कर्नाटक, जिला सचिव दीपांशु पान्डेय, रमेश नेगी आदि उपस्थित रहे।

Leave a Comment!

error: Content is protected !!