उत्तर प्रदेशउत्तराखंडऊधमसिंह नगर

किच्छा : हाथरस जा रहे कांग्रेस के काफिले को यूपी पुलिस के रोके जाने पर कांग्रेसियों ने यूपी सरकार के खिलाफ किया जोरदार प्रदर्शन

यूपी सरकार के खिलाफ प्रदर्शन करते कांग्रेसी

किच्छा। हाथरस में दलित युवती के साथ हुई घटना के बाद पीड़ितों से मिलने जा रहे कांग्रेस के पूर्व राष्ट्रीय अध्यक्ष तथा राष्ट्रीय महासचिव प्रियंका गांधी को यूपी पुलिस द्वारा रास्ते में रोके जाने तथा राहुल गांधी के साथ अभद्र व्यवहार व धक्का-मुक्की के विरोध में कांग्रेसियों ने यूपी सरकार के खिलाफ जोरदार प्रदर्शन करते हुए पुतला दहन किया। कांग्रेस के प्रदेश सचिव संजीव कुमार सिंह, नगर अध्यक्ष अरुण तनेजा व नगर संगठन महामंत्री फिरदौस सलमानी के नेतृत्व में तमाम कांग्रेसी कार्यकर्ता नगर के महाराणा प्रताप चौक पर एकत्रित हुए।

जहां उन्होंने यूपी सरकार के खिलाफ जोरदार नारेबाजी कर प्रदर्शन किया तथा यूपी सरकार के प्रतीकात्मक पुतले को आग के हवाले किया। इस मौके पर वरिष्ठ कांग्रेसी नेता पुष्कर राज जैन, युवा व्यापार मंडल अध्यक्ष दुर्गेश गुप्ता, प्रदेश सचिव संजीव कुमार सिंह, युवा नेता बंटी पपनेजा ने कहा कि यूपी सरकार की दमनकारी नीतियों के चलते पूरे प्रदेश में यूपी सरकार के खिलाफ भारी रोष व्याप्त है। उन्होंने कहा कि दलित युवती के साथ बर्बरता पूर्वक दुराचार की घटना में उत्तर प्रदेश सरकार ने सबूत मिटाने के लिए देर रात्रि युवती के शव का गोपनीय तरीके से अंतिम संस्कार कर शर्मनाक कृत्य किया है।

उन्होंने कहा कि इलाहाबाद हाईकोर्ट ने स्वयं मामले को संज्ञान में लेकर अधिकारियों को न्यायालय में पेश होने का नोटिस जारी कर सराहनीय कदम उठाया है। वक्ताओं ने कहा कि बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ का नारा देने वाली भाजपा सरकार के शासन में महिलाएं तथा बालिकाएं सुरक्षित नहीं है तथा महिलाओं, युवतियों के साथ-साथ छोटी बच्चियों के साथ भी बलात्कार की घटना आम बात हो गई है। इस मौके पर व्यापार मंडल कोषाध्यक्ष राजकुमार बजाज, निर्मल सिंह हंसपाल, डॉ. गणेश उपाध्याय, रिजवान निक्की, अर्जुन सिंह, हसीब अहमद, हसीब खान व जगरूप सिंह गोल्डी सहित तमाम कांग्रेसी उपस्थित थे।

हल्द्वानी : नवीन मंडी में तीन बच्चों के पिता पीआरडी जवान ने रौंद दी मंडी कर्मचारी की बेटी की आबरू

हल्द्वानी : गोरापड़ाव में नवयुवक से हैवानियत के दो आरोपी गिरफ्तार, केस में पुलिस ने कुकर्म के प्रयास की धाराएं बढ़ाई, पीड़ित के बयानों का इंतजार

Leave a Comment!

error: Content is protected !!