सीएनई रिपोर्टर, सुयालबाड़ी

यहां विकासखंड रामगढ़ के ग्राम पंचायत छतौला में किये जा रहे ​पार्क का निर्माण विवादों के घेरे में आ गया है। कई जनप्रतिनिधि व स्थानीय लोगों ने चल रहे कार्य पर आपत्ति जताते हुए इसे अवैध बताया है। प्राइवेट बिल्डर पर पानी के स्टोरेज टैंक को तोड़ने सहित कई गम्भीर आरोप लगाते हुए संबंधित अधिकारी को शिकायती ज्ञापन भी सौंपा है। साथ ही आंदोलन की चेतावनी दी है।

उत्तराखंड ब्रेकिंग : देहरादून में लगा नाइट कर्फ्यू, गैरसैंण कमिश्नरी स्थगित, 1 से 12 तक स्कूल बंद

जिला पंचायत नैनीताल के उपाध्यक्ष पुष्कर नयाल ने आरोप लगाया है कि विकासखंड रामगढ़ के ग्राम पंचायत ग्राम पंचायत छतौला में एक प्रभावशीली बिल्डर के द्वारा गांव की सरकारी भूमि में पेयजल हेतु बने स्टोरेज टैंक को जबरन तोड़ कर उसमें पार्क का निर्माण किया जा रहा है। यह भी आरोप लगाया कि निर्माण कार्य के दौरान पेयजल निगम द्वारा बनाई जा रही पंपिंग योजना के मुख्य स्रोत पर पंप लगाकर पानी की निकासी की जा रही है। जिससे पंपिंग योजना प्रभावित होने का अंदेशा है।


उत्तराखंड कोरोना अपडेट : 748 नए मरीज, राज्य में पांच की मौत

उन्होंने चेतावनी दी कि अगर बिल्डर पर कार्रवाई नही की गई तो वह कलेक्ट्रेट परिसर में धरने पर बैठ जायेंगे। इधर क्षेत्रवासियों ने प्रभारी, भारतीय पशु चिकित्सा अनुसंधान संस्थान (आईवीआरएल) डॉ. पुतनाम सिंह को ज्ञापन सौंपा है। जिसमें कहा गया है कि बिल्डर अपने निजि प्रयोग के लिए मोटर द्वारा पानी खींच रहा है। जिस योजना के स्रोत से पानी खींचा जा रहा है कि वह ग्राम सभा छतौना के घर—घर नल, हर घर नल योजना के लिए है। जिससे न केवल आम जनता को बल्कि वन्य जीवों को भी पेयजल से वंचित होना पड़ेगा। ज्ञापन में कई पंचायत प्रतिनिधियों व आम नागरिकों के हस्ताक्षर हैं।

जिला अस्पताल में अल्ट्रा साउंड कक्ष के पास लगी आग, मचा हड़कंप

Almora Breaking : आज 15 की रिपोर्ट आई कोरोना पॉजिटिव, 11 नगर क्षेत्र से, रानीखेत S.B.I. में महिला कर्मचारी संक्रमित, बैंक एहतियातन बंद

Big Breaking : राजधानी में अगले आदेश तक सभी स्कूल-कालेज बंद, लॉकडाउन के बन रहे हालात

- Advertisement -

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here