सांकेतिक फोटो

देहरादून। दून मेडिकल कॉलेज अस्पताल में चिकित्सकों की मेहनत रंग लाई और नौ माह का कोरोना संक्रमित बच्चा सिर्फ छह दिनों में ही ठीक हो गया। बच्चा उत्तराखंड में कोरोना से सबसे कम समय में ठीक होने वाला मरीज बन गया है। डिप्टी एमएस और स्टेट कोरोना कॉर्डिनेटर डा. एनएस खत्री के मुताबिक बच्चे की दो रिपोर्ट लगातार नेगेटिव आने के बाद गुरुवार को डिस्चार्ज कर दिया गया। उन्होंने बताया कि भगत सिंह कालोनी की मस्जिद कर्मचारी को कोरोना हो गया था। उनके संपर्क में आने से बच्चे को कोराना हुआ। 17 अप्रैल को बच्चे को भर्ती कराया गया था।

जुड़िये हमारें व्हाट्सएप्प ग्रुप से,
https://chat.whatsapp.com/
FTYwl1FqGnrLIxCmiP9RHe

डिप्टी एमएस डा. एनएस खत्री और नोडल अधिकारी डा. अनुराग अग्रवाल के अनुसार शरीर में कोरोना वायरस का लोड जितना होगा, संक्रमण उतना ही ज्यादा होगा। गंभीर रूप से बीमार मरीज के पास ज्यादा देर तक रहने वालों में वायरल लोड ज्यादा होगा, केवल संपर्क में आने या संक्रमित हो जाने पर सामान्य लक्षण ही उभरते हैं। उन्होंने बताया कि इस बच्चे में भी शुरुआत से ही ऐसे कोई लक्षण नहीं थे। बच्चे में वायरल लोड बहुत ही कम था, जिससे वह इतनी जल्दी ठीक हुआ। मां का दूध भी बच्चे को संक्रमण से लड़ने की ताकत देता है। मां बच्चे को लगातार दूध पिलाती रही।


Advertisement

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here