रानीपोखरी। जौलीग्रांट एयरपोर्ट से जर्मन नागरिक को नई दिल्ली स्थित जर्मनी दूतावास ले जाने और वापसी में तीन युवकों को चोरी छिपे उत्तराखंड में लाने वाले टैक्सी चालक को पुलिस ने काफी जद्दोजहद के बाद गिरफ्तार करने में सफलता हासिल कर ही ली। घटना रात की है। पुलिस से बचने के लिए कार चालक ने अपनी कार हरिद्वार देहरादून के निर्माणाधीन मार्ग पर दौड़ा दी थी, जबकि पुलिस की मोबाइल टीम लगातार उसका पीछा करती रही। अंत में लालतप्पड़ के पास कार डिवाइडर पर चढ़कर पलट गई। पुलिस ने कार चालक समेत चारों लोगों को लॉक डाउन तोड़ने के आरोप में गिरफ्तार कर लिया है।
लॉकडाउन का गंभीरता से पालन करने के लिए जनपद देहरादून की सीमा सील कर दी गई हैं और रायवाला में पुलिस हर आने जाने वाले वाहन की जांच कर रही हैं।
आज जनपद देहरादून व हरिद्वार की सीमा सप्त ऋषि बैरियर पर चेकिंग दौरान हरिद्वार की ओर से आ रही स्विफ्ट डिजायर कार को टॉर्च तथा हाथ से रुकने का इशारा किया गया परंतु वाहन चालक के द्वारा वाहन को न रोककर तेज गति से कार को देहरादून की ओर भगा लिया गया, जिस पर फोन व आरटी सेट के माध्यम से तत्काल सूचना प्रसारित कर दी तथा पुलिस का मोबाइल दस्ता कार के पीछे लग गया। थाना गेट, नेपाली तिराहा, छिद्दरवाला बैरियर पर भी उक्त कार को रोकने का प्रयास किया गया परंतु चालक के द्वारा अति तीव्र गति से कार को चलाते हुए कहीं पर भी नहीं रोका गया। थाना मोबाइल द्वारा लगातार कार का पीछा किया जा रहा था कि लाल तप्पड़ के पास उक्त कार अनियंत्रित होकर डिवाइडर पर चढ़कर क्षतिग्रस्त हो गई। थाना मोबाइल में नियुक्त कर्मचारी गणों को द्वारा कोरोना वायरस के दृष्टिगत आवश्यक सुरक्षात्मक कार्रवाई करते हुए कार सवार चारों व्यक्तियों को हिरासत में लिया गया, पूछताछ करने पर ज्ञात हुआ उक्त चारों व्यक्ति दिल्ली से आकर लॉकडाउन/उत्तराखंड शासन के आदेश निर्देशो का उल्लंघन कर जनपद सीमा में अवैध रूप से प्रवेश कर रहे थे।
पूछताछ में कार चालक रजत पुंडीर द्वारा बताया गया की 25अप्रेल को को वह जौलीग्रांट से एक जर्मन नागरिक को जर्मन एंबेसी दिल्ली ले गया था, उसके द्वारा पूर्व में ही तीन युवकों से संपर्क कर उन्हें चोरी छुपे देहरादून में लाने की बात कर ली गई थी। रात्रि में वापस लौटते समय उक्त युवकों से संपर्क कर वह उन्हें बिना परमिशन के देहरादून ले आया। पर देहरादून की सीमा में प्रवेश करते समय रायवाला बैरियर पर पुलिस द्वारा की जा रही सघन चेकिंग को देखते हुए पकड़े जाने के डर से उनके द्वारा तुरंत गाड़ी को वहां से भगा दिया, परंतु पुलिस टीम द्वारा उनका पीछा कर उन्हें गिरफ्तार कर लिया। उक्त तीनों युवक दिल्ली में पढ़ाई कर रहे थे।
लॉकडाउन के नियमों/उत्तराखंड शासन के आदेशों निर्देशों का उल्लंघन करने पर चारो व्यक्तियों को गिरफ्तार कर चारों अभियुक्तों के विरुद्ध धारा-188/269/270 IPC एवं राष्ट्रीय आपदा प्रबंधन अधिनियम-2005 के अंतर्गत अभियोग पंजीकृत किया गया और मारुति स्विफ्ट डिजायर UK07DA0272 को मोटर वाहन अधिनियम के अंतर्गत सीज किया गया| उक्त चारों अभियुक्तों का मेडिकल टीम द्वारा मेडिकल टेस्ट / स्क्रीनिंग कराकर क्वॉरेंटाइन किया जा रहा है|

Advertisement

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here