अपराधउत्तर प्रदेशब्रेकिंग न्यूज

तंत्र विद्या के खेल में बेटे की हत्या कर उसे जिंदा करने के लिए निकाली पिता की आंत

सांकेतिक तस्वीर

कौशांबी। उत्तर प्रदेश के कौशांबी में पिपरी थाना क्षेत्र के चायल कस्बे में पिता-पुत्र की हत्या का पुलिस ने 24 घंटे के भीतर खुलासा कर दिया है। पुलिस की तफ्तीश में पता चला है कि तंत्र विद्या को सिद्ध करने के लिए पहले बेटे और फिर बाद में पिता की बलि दी गई थी। इस घटना में मृतक की पत्नी ने अपने बहनोई, बहन और बहन की बेटी को भी शामिल किया था। पुलिस ने सभी आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया है। कड़ी पूछताछ के बाद आरोपियों ने अपना जुर्म कबूल कर लिया है।

पिपरी थाना क्षेत्र के चायल कस्बे के वकील अहमद उर्फ नौसे (32) वर्ष कपड़े की सिलाई कर परिवार का पेट भरता था। परिवार में उसकी पत्नी गुलनाज के अलावा तीन बच्चे वाहिजा 4, अरमान 3 वर्ष और माहरा 3 माह भी हैं। मृतक वकील का साढ़ू सफदर अली उर्फ बबलू निवासी शाहपुर थाना हथगांव जिला फतेहपुर तांत्रिक है। आए दिन बबलू घर में आकर तंत्र-मंत्र का काम करता था। पिछले तीन-चार दिन से वकील ने अपने पूरे परिवार को एक कमरे में कैद कर तांत्रिक बबलू के साथ तंत्र-मंत्र कर रहा था।

खबरों को अपने मोबाइल पर पढ़ने के लिए लिंक पर क्लिक करे
Link

बबलू अपनी पत्नी नूरी, बेटे अनस और वकील की पत्नी गुलनाज के साथ गुरुवार की रात घर के भीतर तंत्र विद्या को सिद्ध कर रहा था। सभी ने मृतक के बेटे अरमान की गला दबाकर हत्या कर दी। फिर उसे जिंदा करने के लिए साढ़ू की मदद से मृतक की पत्नी गुलनाज ने आंत निकाल ली, जिसके बाद उसकी मौत हो गई। घटना के बाद मृतक की पत्नी गुलनाज को छोड़कर सभी लोग मौके से फरार हो गए।

सुबह घटना की जानकारी होने पर पुलिस मौके पर पहुंची। घर के एक कमरे में पिता और पुत्र का शव मिला। जबकि, दूसरे कमरे में महिला बेसुध मिली। पुलिस ने महिला को इलाज के लिए अस्पताल भेज दिया। वहीं, दोनों शवों को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया। दोहरे हत्याकांड की जानकारी मिलते ही एसपी अभिनंदन, डीएम, तीनों सर्किल के सीओ प्रयागराज के एडीजी जोन प्रेम प्रकाश भी पहुंचे। उन्होंने घटना की छानबीन की इसके अलावा आसपास के लोगों से भी पूछताछ की।

सिंध नदी में मिली सकरमाउथ कैटफिश मांसाहारी मछली, गंगा में देखा गया था इससे पहले, वैज्ञानिकों ने जताया खतरा

शक के घेरे में आई मृतक की पत्नी को पुलिस ने हिरासत में लिया और पूछताछ शुरू की तो उसने घटना में शामिल अपने रिश्तेदारों का भी नाम बता दिया। पुलिस ने उन्हें भी गिरफ्तार कर लिया और उनसे भी कड़ाई से पूछताछ की तो उन्होंने घटना से पर्दा उठा दिया। पुलिस ने मौके से ताबीज, जले हुए कपड़े, पुराने सिक्के, चाकू बरामद किया है।

एसपी अभिनंदन ने प्रेस वार्ता कर घटना का खुलासा करते हुए बताया कि तंत्र-मंत्र से जुड़ा मामला है. मृतक और उसकी पत्नी ने अपने बच्चे की बलि दी फिर उसे जिंदा करने के लिए आंत बाहर निकाल दी। इस काम में साढ़ू उसकी पत्नी और बेटे ने भी साथ दिया। पुलिस ने आला कत्ल बरामद कर लिया है। एसपी ने बताया कि पूछताछ के दौरान दोनों महिलाओं ने खुद पर जिन्न का साया होने की बात कही, चारों आरोपियों को जेल भेज दिया गया है।

Leave a Comment!

error: Content is protected !!