अल्मोड़ाउत्तराखंड

भावुक क्षण : 34 साल सेवा की, सहयोग दिया और विदा होते वक्त संस्था को दिए पांच लाख

सीएनई रिपोर्टर, सोमेश्वर/अल्मोड़ा
34 साल सेवा की और विद्यालय के विकास में सहयोग दिया और आज सेवानिवृत्ति पर विद्यालय को पांच लाख रुपये विद्यालय को देने की घोषणा की। यहां बात हो रही है कि चनौदा महात्मा गांधी इंटर कालेज के प्रधान लिपिक कृपाल सिंह नेगी की। जिन्हें बुधवार को सेवानिवृत्त होने पर भावभीनी विदाई दी गई। इस मौके पर सभी भावविभोर हुए।
विद्यालय में आयोजित विदाई कार्यक्रम में प्रधानाचार्य विजय भाकुनी, अध्यक्ष डॉ. देवेन्द्र कुमार जोशी, प्रबंधक दीवान बोरा ने प्रधान लिपिक कृपाल सिंह नेगी को विदाई देते हुए कहा कि शिक्षण संस्थान श्री नेगी ने अहम् योगदान दिया है। उन्होंने विद्यालय में 34 साल की सेवा दी है और उनके कार्यों की प्रशंसा की गई। इस मौके पर अपने संबोधन में बेहद भावुक होकर कृपाल सिंह नेगी ने कहा कि उन्हें विद्यालय परिवार समेत सभी अभिवावकों का हमेशा सहयोग मिला। जिसे वह कभी नहीं भुलाएंगे। उन्होंने इस मौके पर विद्यालय को पांच लाख रुपये दान देने की घोषणा भी की। उन्होंने अपने स्वर्गीय पुत्र शोभित नेगी के नाम पर चनोदा महात्मा गांधी इंटर कालेज में एक कक्ष निर्माण हेतु चार लाख रुपये की धनराशि दान देने की घोषणा की। इतना ही नही पीटीए के तहत रखे कर्मचारियों की पीड़ा को समझते हुए उन्होंने उनके वेतन के लिए एक लाख रुपये की धनराशि देने की घोषणा की। उनकी यह दान वीरता व महानता देख सभी उपस्थितजन भाव विभोर हो गए। यहां गौरतलब है कि विगत माह उनके ज्येष्ठ पुत्र शोभित नेगी का आकस्मिक निधन हो गया था। श्री नेगी सोमेश्वर विधानसभा के रनमन क्षेत्र के निरई गांव के निवासी हैं। विदाई के मौके पर उनका फूलमाला पहनाकर स्वागत किया गया और स्मृति चिह्न भेंट किया।

Leave a Comment!

error: Content is protected !!