Big Breaking – बड़ी कामयाबी: हल्द्वानी के होटल से पांच बदमाश गिरफ्तार, कार लूट का खुलासा, लूट के बाद चालक की हत्या का किया था प्रयास

380

सीएनई रिपोर्टर, हल्द्वानी
एसओजी और पुलिस की संयुक्त कार्रवाई में गत दिवस हुई कार लूट का खुलासा करते हुए पांच शातिर बदमाशों को गिरफ्तार करने में बड़ी कामयाबी हासिल की है।
इन बदमाशों ने चालक से न केवल कार व नगदी लूट ली, बल्कि उसको जान से मारने की नियत से उस पर दो फायर भी किये। संयोग से यह चालक अपनी जान बचाकर भागने में सफल हो गया। हैरानी की बात यह है यह लुटेरे इतनी बड़ी वारदात को अंजाम देने के बाद भी हल्द्वानी के ही एक होटल में बैखाफ रूके हुए थे। इनको गिरफ्तार करने में कार में लगे जीपीएस ने सबसे अहम भूमिका निभाई
घटनाक्रम के अनुसार बीते 25 अप्रैल को वसान पाटी चंपावत निवासी नारायण सिंह पुत्र बहादुर सिंह ने मुखानी थाने में सूचना दी थी कि 24 अप्रैल को अपनी टैक्सी संख्या यूके 08 टीए- 7527 से पांच यात्रियों को कचहरी रोशनाबाद हरिद्वार से लेकर नैनीताल आ रहा था। पांचों ने नैनीताल आने के लिए कार 8 हजार रुपए में बुक की थी। वह जब कालाढूंगी से नैनीताल की ओर जाने लगा तो कार में सवार दो लोगों ने पेशाब करने की बात कहकर कार रूकवा दी। इसी दौरान कार में पीछे बैठे दो लोगों ने कार चालक को बांधने का प्रयास किया और अन्य लोगों ने उसका पर्स, मोबाईल छीन लिया और उस पर फायर झोंक दिया जो मिस हो गया। पीड़ित ने बताया कि उसने जोर का झटका देकर खुद को छुड़ा लिया और जंगल की ओर दौड़ लगा दी। इसी बीच एक व्यक्ति ने उस पर दोबारा फायर झोंक दिया जिसमें वह बाल-बाल बच गया। लुटेरे उसकी कार लेकर फरार हो गए। पीड़ित की सूचना पर पुलिस भी हरकत में आ गई। एसएसपी ने लूट के आरोपियों को गिरफ्तार करने के लिए कालाढूंगी पुलिस और एसओजी की टीम गठित कर दी। टीम ने कार चालक से संपर्क किया तो पता चला कि कार में जीपीएस लगा है जिसकी लोकेशन इस समय हल्द्वानी में है। लूट के आरोपियों को गिरफ्तार करने के लिए हल्द्वानी, काठगोदाम, मुखानी, वनभूलपुरा और लालकुआं पुलिस को भी सूचित कर दिया और घटना के खुलासे के लिए छह टीमों का गठन किया गया। कालाढूंगी पुलिस और एसओजी की संयुक्त टीम ने लूट के आरोपियों को अलंकार होटल से गिरफ्तार कर लिया। उनके पास से 43 हजार 700 रुपए की नगदी के साथ ही लूटी गई कार और एटीएम भी बरामद कर ली। साथ ही उनके पास से दो तमंचे, एक खोका कारतूस व एक जिन्दा कारतूस बरामद किया है। पूछताछ में पता चला कि वह गेहूं का ट्रक लूटने की पिफराक में थे। पकड़े गए आरोपी उदयपुरी डिलारी मुरादाबाद, भूडा थाना हजरतनगर गढ़ी मुरादाबाद, मौहल्ला मोतीनगर हयातनगर सम्भल, ग्राम गवारव डिलारी जिला मुरादाबाद और मानकपुर बजरिया थाना टाण्डा जिला रामपुर के रहने वाले हैं। लुटेरों को पकड़ने वाली टीम में एसओ कालाढूंगी दिनेश नाथ महंत ,एसआई भूपाल राम पौरी, एसआई गगनदीप सिंह, कां. जगवीर सिंह, मोहन चन्द्र जोशी, उपेन्द्र कुमार, चन्द्र प्रकाश, अमित देवरानी, वीरेन्द्र चैहान, कुन्दन कठायत, त्रिलोक रौतेला आदि शामिल रहे। पुलिस द्वारा मामले का खुलासा करने पर पुलिस महानिरीक्षक कुमाऊं रेंज ने टीम को पांच हजार और एसएसपी ने ढाई हजार रुपए का ईनाम देने की घोषणा की है। पुलिस ने सभी आरोपियों के खिलाफ सुसंगत धाराओं में मुकदमा दर्ज कर उन्हें जेल भेज दिया है।

Previous articleकोरोना सब लील गया: पूर्व विधायक के अंतिम संस्कार के दिन पत्नी का निधन, बेटा भी संक्रमित, हालत गम्भीर
Next articleबड़ी खबर हल्द्वानी : जिलाधिकारी ने किया आदेशों में संशोधन, अग्रिम आदेशों तक कोरोना कर्फ्यू लागू, होम डिलीवरी, फल, सब्जी, बैंकों के लिए ये नियम

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here