सीएनई रिपोर्टर, बागेश्वर: ग्राम पंचायत विकास अधिकारी संगठन की अनिश्चितकालीन हड़ताल शनिवार को जारी रही। उन्होंने विकास भवन परिसर पर नारेबाजी के साथ धरना दिया। छह सूत्रीय मांगों का निराकरण नहीं होने पर आक्रोश व्यक्त किया। हड़ताल से ग्रामीण क्षेत्रों के कामकाज ठप हो गए हैं।

ग्राम पंचायत विकास अधिकारियों ने कहा कि लंबे समय से वह मांगों को लेकर पत्राचार कर रहे थे। लेकिन कोई सुनवाई नहीं हो रही है। ग्राम पंचायतों के तमाम काम एक ही व्यक्ति से कराए जा रहे हैं। जिसके कारण उनकी समस्याएं बढ़ गई हैं। संगठन के अध्यक्ष गौरव कुमार सिंह ने कहा कि ग्राम पंचायत स्तर पर दो पदों का एक पद कर दिया गया है। हिमाचल की तर्ज व्यवस्था लागू नहीं हो रही है। पदोन्नति को लेकर कोई ठोस निर्णय नहीं हैं। विभाग का पुनर्गठन नहीं हो सका है। सहायक विकास अधिकारी पंचायत को खंड विकास अधिकारी के पद पर नियुक्ति की मांग की गई है। बहुउद्देशीय कर्मी व्यवस्था समाप्त करने, कार्मिकों को उनके मूल विभाग वापस भेजने, स्वीकृत पदों के सापेक्ष कर्मचारी की तैनाती होने तक वह आंदोलन पर डटे रहेंगे। इस दौरान कुंदन प्रसाद, मनोज गोस्वामी, भास्करानंद पाठक, ललिता गोस्वामी, नेहा खेतवाल, कपिल गंगवार, रूबी, जन चंद्र जोशी, इंद्रा गढ़िया, यशवीर असवाल, मनोहर रावत, हेमा जोशी, भगवती कपकोटी, हरीश आर्य, वर्षा परिहार आदि उपस्थित थे।

Advertisement
Advertisement

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here