जिलाधिकारी सविन बंसल

हल्द्वानी। जिला प्रशासन द्वारा कोरोना वायरस कोविड-19 के तहत आवागमन हेतु पास निर्गत करने की प्रक्रिया एवं स्थान में परिवर्तन किया है। अब सभी प्रकार के पास एमबी इंटर कॉलेज कन्ट्रोल रूम से प्रातः 7 बजे से सांय 7 बजे के बीच अधिकारियों द्वारा जारी किये जायेंगे। देर रात जिलाधिकारी सविन बंसल ने जारी आदेश में कहा है कि वर्तमान में नोवल कोरोना वायरस कोविड-19 की सम्भावना के दृष्टिगत अनावश्यक आवागमन प्रतिबंधित किया गया है। लॉकडाउन की अवधि में निर्गत आवश्यक वस्तुओं की छूट के अतिरिक्त अंतर्जनपदीय तथा अन्तर्राज्यीय आवगमन हेतु आकस्मिकता में अनुमति पत्र जारी किये जा रहे है। इसी प्रकार देश के विभिन्न राज्यों में प्रवासरत व्यक्तियों को राज्य में वापस लाने के लिए उत्तराखण्ड शासन द्वारा मानक प्रचलन विधि तैयार की गई है। इन व्यवस्थाओं के सुचारू एवं व्यवस्थित तौर पर संचालन करने के लिए पूर्व संचालित व्यवस्था में आंशिक संशोधन किया गया है। उन्होंने बताया कि पास के लिए बढ़ती हुई भीड के दबाव को देखते हुये पास जारी करने का कार्य दो शिफ्टों में किया जायेगा जिसके लिए अधिकारियों को जिम्मेंदारी दी गई है।

बंसल ने बताया कि मैनुअल पास जारी करने के लिए एआरटीओ विमल पाण्डे और ई-पोर्टल पास के लिए महाप्रबन्धक कुमाऊं मण्डल विकास निगम अशोक जोशी को नोडल आफिसर बनाया गया है। इनके सहयोग के लिए एआरटीओ डा. गुरदेव सिह तथा सहायक क्षेत्रीय प्रबन्धक रोडवेज सुरेन्द्र सिह को समन्वयक का दायित्व दिया गया है। उन्होंने बताया कि इस कार्य के लिए निदेशक डेयरी जीवन सिह नगन्याल को बतौर प्रेक्षक नियुक्त किया गया है। उन्होंने बताया कि एमबी इन्टर कालेज में प्रातः 7 बजे से दोपहर 1 बजे तक की टीम में भाष्करानन्द पाण्डे खण्ड शिक्षा अधिकारी कोटाबाग, धु्रव सिह मर्तोलिया एसडीओ वन विभाग हल्द्वानी तथ अश्वनी रावत उप शिक्षा अधिकारी रामगढ को दायित्व सौपा गया है। इनके सहयोग के लिए मनोज भटट कनिष्ठ लिपिक राजकीय कन्या इन्टर कालेज हल्द्वानी, जगमोहन सिह खाती प्रवर सहायक राजकीय इन्टर कालेज मोतीनगर, कुन्दन सिह अधिकारी वरिष्ठ सहायक राजकीय कन्या उच्चतर माध्यमिक विद्यालय मोटाहल्दू तथा मो. परवेज वरिष्ठ सहायक राजकीय उच्चतर माध्यमिक विद्यालय गौजाजाली को तैनात किया गया है। उन्होंने बताया कि दूसरी टीम जो कि अपराह्न 1 बजे से 7 बजे तक कार्य करेगी का दायित्व भूपेन्द्र कुमार उप शिक्षा अधिकारी बेतालघाट, पंकज ढोडियाल सहायक अभियन्ता जामरानी हल्द्वानी तथा के एस बिष्ट अधिशासी अभियन्ता पीएमजीएसवाई ज्योलीकोट को दायित्व दिया गया है। इनके सहयोग के लिए अनिल कुमार जोशी प्रधान सहायक उप शिक्षा अधिकारी कार्यालय हल्द्वानी, लाखन सिह वरिष्ठ सहायक राजकीय उच्चतर माध्यमिक विद्यालय नवाडखेडा तथा विजय कुमार वरिष्ठ सहायक राजकीय कन्या उच्चतर माध्यमिक विद्यालय फूलचौड़ को सम्बद्व किया गया है। यह अधिकारी व कर्मचारी अन्तर्राज्यीय एवं अंतर्जनपदीय अनुमति पत्र निर्गत करेंगे।

जिलाधिकारी ने बताया कि ई-पास प्रवासीय उत्तराखण्ड अनुमति के अन्तर्गत आवागमन की अनुमति प्रदान किये जाने हेतु पृथक से अधिकारियों एवं कर्मचारियों को तैनात किया गया है। उन्होंने बताया कि प्रात-7 बजे से 1 बजे के बीच पास निर्गत करने के लिए सुनील कुमार अधिशासी अभियन्ता राष्ट्रीय राजमार्ग हल्द्वानी, सुलोहिता नेगी उप शिक्षा अधिकारी भीमताल तथा कमलेश्वरी मेंहता उप शिक्षा अधिकारी ओखलकांडा को नामित किया गया है। इनके सहयोग के लिए ललित बृजवाल वरिष्ठ सहायक कार्यालय उपशिक्षा अधिकारी कोटाबाग, जगदीश्वर सिह पटवाल कनिष्ठ सहायक राजकीय इन्टर कालेज लालकुआ, नितेश नेगी कनिष्ठ सहायक राजकीय इन्टर कालेज हरिपुर जमनसिह तथा भीमसिह कनिष्ठ सहायक राजकीय इन्टर कालेज बिन्दुखेडा को सम्बद्व किया गया है। इसी प्रकार अपराहन 1 बजे से 7 बजे तक के लिए निर्धारित टीम का दायित्व भूपेन्द्र कुमार उप शिक्षा अधिकारी बेतालघाट, एआर उनियाल अधिशासी अभियन्ता पीएमजीएसवाई हल्द्वानी, अमित चन्द्र उपशिक्षा अधिकारी कोटाबाग को दायित्व दिया गया है। इनके सहयोग के लिए ललित सिह सम्भल वरिष्ठ सहायक राजकीय उच्चतर माध्यमिक विद्यालय ईसाई नगर, नवल किशोर सोराडी प्रधान सहायक राजकीय कन्या इन्टर कालेज बनभूलपुरा, प्रदीप ममगई प्रधान सहायक राजकीय इन्टर कालेज राजपुरा को सम्बद्व किया गया है।


बंसल ने बताया कि सामान्य ई-पास जारी करने के लिए संजय सिह सहायक अभियन्ता जमरानी हल्द्वानी को नामित अधिकारी बनाया गया है इनका सहयोग बृजेश जोशी कनिष्ठ सहायक राजकीय इन्टर कालेज बनभूलपुरा करेंगे। यह टीम प्रात 7 बजे से 1 बजे के बीच कार्य करेगी। जबकि एचएन कापडी सहायक अभियन्ता जमरानी हल्द्वानी को टीम का नामित अधिकारी बनाया गया है इनका सहयोग पिताम्बर दत्त जोशी कनिष्ठ सहायक राजकीय इन्टर कालेज राजपुरा करेंगे। यह टीम दोपहर 1 बजे से सांय 7 बजे तक सामान्य ई-पास जारी करने का कार्य करेगी।

जारी आदेश में जिलाधिकारी ने कहा है कि ई-पोर्टल एवं प्रवासी उत्तराखण्ड पोर्टल में पंजीकृत आवेदनों में निर्णय लिये जाने हेतु नोडल अधिकारी सक्षम होंगे एवं नोडल अधिकारी किसी भी पंजीकरण को निर्धारित मानक प्रचलन विधि के अन्तर्गत स्वीकृत अथवा अस्वीकृत किये जाने हेतु नोडल अधिकारी के निर्देशन में सक्षम होंगे। ई-पोर्टल के अन्तर्गत कार्य जो भी डाटा सम्बन्धी कार्य पोर्टल में किया जाना है में सहयोग हेतु नोडल एवं प्रभारी अधिकारी की सुविधा हेतु कार्मिकों की तैनाती की गई है। नोडल/प्रभारी अधिकारी कार्य की आवश्यकता की दृष्टि से कार्मिकों की व्यवस्था स्वयं (अपने विभागीय कार्मिक) करने में सक्षम होंगे। उन्होने कहा कि ई-पोर्टल से सम्बन्धित कार्य में यथा आवश्यक सहयोग हेतु जिला सूचना विज्ञान अधिकारी एनआईसी एवं ई-डिस्ट्रिक्ट मैनेजर से सहयोग प्राप्त कर लिया जाए। समन्वयक अधिकारी यह भी सुनिश्चत करेंगे कि जनपद के अन्तर्गत अन्यत्र राज्यों के प्रवासियों के आवागमन की व्यवस्था कर रहे अधिकारियों तथा पोर्टल में निर्गत अनुमति तथा जनपद में सुविधा/उपकरणों हेतु भौतिक रूप से किये जा रहे कार्य यथा प्रवासियों के आवागमन हेतु बसों अथवा अन्य वाहनो की उपलब्धता आदि का परस्पर समन्वय बनाकर व्यवस्था करेंगे।

- Advertisement -

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here