नहर से कार बाहर निकालने में जुटे गोताखोर व मौके पर तमाशबीनों की भीड़

करनाल/हरियाणा। यहां स्टोनंडी बीजना गांव में एक स्विफ्ट कार आवर्धन नहर में गिर जाने से एक वृद्ध की मौत हो गई है। यह कार पुलिस विभाग में कार्यरत, मधुवन में पोस्टेड हेड कांस्टेबल विक्रम चला रहे थे और कार में उनके वृद्ध पिता भी सवार थे। कार गिरने के बाद हेड कांस्टेबल को नहर से निकाल अस्पताल भर्ती करा दिया गया, जबकि कार सहित नहर में डूब चुके वृद्ध को बाहर निकालने के लिए पुलिस टीम व गोताखोरों कई घंटों तक कड़ी मशक्कत करनी पड़ी। कार को बाहर निकालने में गोताखोर सावन और करन ने अत्यंत सराहनीय भूमिका निभाई। बताया जा रहा है कि जूमला गांव निवासी हेड कांस्टेबल विक्रम अपने पिता रामपाल के साथ अपनी स्विफ्ट कार संख्या एचआर 05 एडी 9649 लेकर निकले थे। अचानक बीजना गांव के पास उनकी कार अनियंत्रित होकर नहर में जा गिरी। जिस समय यह घटना हुई तब निकटवर्ती खेतों में कुछ लोग काम कर रहे थे। तब वह मदद को दौड़ पड़े। इस बीच विशाल राणा नाम के एक व्यक्ति ने नहर में छटपटा रहे हेड कांस्टेबल को रस्सियों के सहारे बाहर निकाल लिया। इसके बाद एसएचओ बलजीत सिंह ने अपने वाहन से उन्हें कल्पना चावला अस्पताल पहुंचाया। जहां अब उनकी हालत खतरे से बाहर बताई जा रही है। डीएसपी राजीव कुमार सहित तमाम पुलिस अधिकारी मौके पर मौजूद रहे। वाहन को बाहर निकालने में गोताखोरों को खासी मशक्कत करनी पड़ी। चुम्बक के सहारे पहले इस 25 फीट गहरी नहर में वाहन को खोजा गया। फिर र​स्सियों और क्रेन की मदद से वाहन को बाहर निकाला गया। कार में ही हेड कांस्टेबल के पिता फंसे हुए मिले, जिन्हें अस्पताल ले जाया गया, जहां चिकित्सकों ने उन्हें मृत घोषित कर दिया।

पुल के निकट कई बार हो चुके हैं हादसे
इधर स्थानीय नागरिकों का कहना है कि यहां ​बीजना की तरफ स्टोनंडी से आने वाला मार्ग रास्ते में अचानक टेड़ा हो जाता है। जिस कारण यहां अकसर हादसे हो जाते हैं। जो नियमित चलने वाले लोग हैं उन्हें तो इस रास्ते की दिक्कत पता है, लेकिन जो पहली बार आते हैं वह अकसर गड़बड़ा जाते हैं। इससे पहले भी एक लड़का यहां डूब कर मर गया था। कई वाहन इस नहर में गिर चुके हैं।

Advertisement

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here