सांकेतिक फोटो

नई दिल्ली। केंद्रीय गृह मंत्रालय ने कुछ शर्तों के साथ देश के विभिन्न हिस्सों में प्रवासी श्रमिकों, पर्यटकों, छात्रों और अन्य व्यक्तियों की आवाजाही के लिए विशेष ट्रेन चलाए जाने की मंजूरी दे दी है। इस तरह अपने मूल प्रदेशों में जहां तहां फंसे लोगों का लौटने की राह खुल गई है। हालांकि विशेषज्ञों ने इसे एक बड़ी चुनोती माना है इसे देखते हुए गृह मंत्रालय ने भी मंजूरी को सशर्त जारी किया। कुछ गाइड लाइनों का पालन करते हुए इन लोगों को अपने प्रदेशों में लाया जा सकता है। उधर गृह मंत्रालय ने विशेष ट्रेनों के संचालन की भी अनुमति दे दी है। राज्य सरकारों को रेल मंत्रालय से बात करके अपनी रणनीति तय करनी होगी। एमएचए ने आज फंसे हुए छात्रों, प्रवासी श्रमिकों, पर्यटकों, तीर्थयात्रियों, आदि को रेल के माध्यम से आवाजाही की अनुमति दी है। राज्य और रेलवे बोर्ड आवश्यक व्यवस्था करेंगे। एमएचए ने सभी राज्यों को दोहराया है कि ट्रकों और माल वाहक के यातायात के लिए अलग-अलग पास की आवश्यकता नहीं है, जिसमें खाली ट्रक आदि शामिल हैं।

लेटेस्ट ख़बर के लिए जुड़िये हमारें व्हाट्सएप्प ग्रुप से,
https://chat.whatsapp.com/
DgdwsJJqlSTGKfpD5GJ6vb

Advertisement

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here