उत्तराखंडबागेश्वर

बागेश्वर न्यूज : ससुराललियों ने घर से निकाला, बेरोजगार गरीब भाई पर बोझ बनी बीमार बहन, मदद की लगाई गुहार

बागेश्वर। सरकार द्वारा बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ को लेकर जागरूकता के तौर पर लाखों करोड़ों रुपए का बजट खर्चा कराया जा रहा है। वही आज भी गांवों में गरीब बेसहारा महिलाओं को इन योजनाओं का उचित लाभ नहीं मिलने से कई महिलाएं अपने को कुंठित महसूस कर रही है। ऐसे में काफलिग़ैर तहसील के सिमतोली 2 गांव में मायके में रहने वाली भगवती बिष्ट ने अपने इलाज, बच्चे के संरक्षण के लिए प्रशासन से मदद की गुहार लगाई है। महिला दर—दर भटक रही है। ससुराल पक्ष द्वारा महिला को संरक्षण देने के बजाय उसके नौनिहाल को बिन माता के रख दिया। महिला अपने गरीब बेरोजगार भाई के भरोसे अपना इलाज करा रही है। भाई जैसे तैसे कर्जा लेकर बहन का इलाज करा रहा है। लेकिन ऐसा कब तक चलेगा कहा नहीं जा सकता।
लेकिन ऐसा कब तक चलेगा कहा नहीं जा सकता। आज महिला ने इस मदद की गुहार लगाते हुए एक चिट्ठी उप जिलाधिकारी के माध्यम से जिलाधिकारी को भेजी है। महिला ने प्रशासन से ससुराल पक्ष से न्याय, इलाज कराने में अक्षम होने पर उचित चिकित्सा सुविधा और भरणपोषण हेतु मदद मांगी है। महिला ने बताया कि बेहद गरीबी की हालत में वह अपना इलाज नहीं कर पा रही है। जिला अस्पताल में दिखाने के बाद हल्द्वानी जाने तक के लिए पैसे भी नहीं हैं, तो वह इलाज कैसे करा पाएगी। उसने जनप्रतिनिधियों और प्रशासन से मुफ्त इलाज सुविधा और ससुराल पक्ष से न्याय देने हेतु कानूनी मदद की अपील की है। वहीं उपजिलाधिकारी सदर राकेश चन्द्र तिवारी जी द्वारा उसे हर संभव मदद का भरोसा दिया है । जिसके बाद बाल विकास अधिकारी राजेन्द्र प्रसाद बिष्ट द्वारा वन स्टॉप सेंटर द्वारा हर संभव मदद का भरोसा दिया गया है।

Leave a Comment!

error: Content is protected !!