ग्वालियर। ग्‍वालियर की सेंट्रल जेल में एक हत्या और डकैती के मामले में सजा काट रहे एक कैदी द्वारा अपना गुप्तांग काटकर भगवान शिव को अर्पित कर दिया। युवा कैदी को इस बात का कोई पछतावा भी नहीं है। उसने कहा कि सपने में स्वयं भगवान शिव के ऐसा कहने पर उसने यह किया है। 30 साल के विष्‍णु राजावत ने तेज धार वाली चम्‍मच से अपना गुप्‍तांग काटकर भगवान शिव को अर्पित कर दिया। उसे तुरंत जिला अस्‍पताल ले जाया गया जहां उसकी हालत स्थिर बताई गई है।
विष्‍णु को वर्ष 2019 में हत्‍या और डकैती के आरोप में एक स्‍थानीय कोर्ट ने दोहरी उम्र कैद की सजा सुनाई थी। अपनी ‘हरकत’ को न्‍यायोचित ठहराते हुए उसने कहा कि भगवान शिव ने सपने में आकर उसे ऐसा करने को निर्देश दिया था। ग्‍वालियर सेंट्रल जेल के सुपरिंटेंडेंट मनोज साहू ने कहा कि विष्‍णु की हालत जैसे ही पूरी तरह स्थिर होते ही, ग्‍वालियर डिस्ट्रिक्‍ट हॉस्पिटल के सर्जन उसके गुप्‍तांग को जोड़ने का प्रयास करेंगे।
जेलर प्रभात कुमार के मुताबिक, कैदी विष्‍णु सुबह करीब 6:30 बजे मंदिर पहुंचा, उसने फर्श साफ किया और अचानक ही तेज धार वाली चम्‍मच से अपना गुप्‍तांग काट लिया। उन्‍होंने कहा कि यह सब एकदम अचानक हुआ। जेल के हर सेक्‍टर में करीब 400 कैदी है, ऐसे में हर एक पर सीसीटीवी के जरिये नजर रखना संभव नहीं है।

https://www.creativenewsexpress.com/fiery-water-comes-in-the-gaula-river-in-haldwani-bihari-laborers-trapped/
- Advertisement -

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here