नई दिल्ली। कोरोना संकट और लॉकडाउन को लेकर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की अध्यक्षता में अहम बैठक हुई। बैठक में गृह मंत्री अमित शाह, रेल मंत्री पीयूष गोयल, वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण, सीडीएस जनरल बिपिन रावत समेत कई अफसर मौजूद रहे। बताया जा रहा है कि बैठक में लॉकडाउन के दूसरे चरण की समीक्षा की गई। सूत्रों हवाले से खबर है कि इस बैठक में 3 मई के बाद सरकार की रणनीति और 4 मई से क्या-क्या छूट दी जा सकती है? इस पर चर्चा की गई। माना जा रहा है कि अगले एक दो दिन में गृह मंत्रालय की नई गाइडलाइन जारी कर सकती है, जिसमें किस जोन में क्या छूट दी जाएगी, इसका ब्यौरा होगा। गौरतलब है कि लॉकडाउन का दूसरा चरण 3 मई को खत्म हो रहा है और देश में कोरोना मरीजों का आंकड़ा 35 हजार को पार कर गया है। ऐसे में सरकार के सामने सबसे बड़ी चुनौती संक्रमण को रोकना है। केंद्रीय मंत्रियों और अफसरों के साथ बैठक से पहले पीएम मोदी ने सभी प्रदेश के मुख्यमंत्रियों से बात की थी। कोरोना से निपटने के लिए रणनीति में थोड़ा बदलाव किया गया है। लॉकडाउन का लॉक को खोलने के लिए पूरे देश को पहले ही तीन जोन में बांटा जा चुका है, लेकिन अब जोन के पैमाने बदले गए हैं।

Advertisement

2 COMMENTS

  1. सरकार द्वारा लिया गया निर्णय सही है किन्तु इसमें आने जाने वाले लोगों को स्वयं भी अपनी जागरूकता दिखानी होगी।और सरकार को सभी निर्धारित स्टेशन तक सीधी ट्रेन चलाकर सभी को पूरी मानकों के साथ उनके घरों तक पहुंचाने का बीड़ा उठाना ही होगा।पर सतर्कता के साथ। बड़ी ही कठिन परिस्थिति है यह सभी के लिए। हमारे देश की सरकार के साथ साथ सभी राज्यों की सरकारें भी अपना बेहतर काम कर रही हैैं अभी ज़रुरत है उन सभी को समझने की जो अभी भी इसे गंभीरता से नहीं ले रहे हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here