उत्तराखंड में अफसरों का सीआर मुद्दा/ सबसे वरिष्ठ मंत्री को हक है सीआर लिखने का, पढ़ें पूरी खबर

1

📰 खबरों के लिए जुड़े व्हाट्सप्प ग्रुप से 👉 Click Now 👈

हल्द्वानी। अफसरों की सीआर लिखने के मुद्दे पर पर्यटन मंत्री सतपाल महाराज ने तुरूप का पत्ता फेंका था, जिसे शासन ने यह कह कर किनारे कर दिया था कि एक आईएएस के पास कई मंत्रियों के विभाग होते हैं। ऐसे में वह किस मंत्री के सामने अपनी सीआर भेजेगा। अब सूत्र बताते हैं कि नियमावली में ऐसी स्थिति में सबसे वरिष्ठ मंत्री के अधिकारी की सीआर लिखने की बात कही गई है। हालांकि अब सतपाल महाराज ने दोबारा हर मंत्री को एक सचिव दिए जाने की बात उठाई है इसपर शासन ने उस पर सफाई भी दे दी है कि प्रदेश के पास इतने आईएएस अधिकारी नहीं है कि एक एक मंत्री को उसके सभी विभागों का एक अधिकारी दिया जा सके। अब इस मामले में सूत्र बताते हैं कि नियम यह है कि यदि एक अधिकारी कई मंत्रियों के विभाग देख रहा है तो उसकी सीआर लिखने का काम उनमें से सबसे वरिष्ठ मंत्री करेगा, और अंतत: वह फाइल मुख्यमंत्री के पास भेजी जाएगी। जो फाइनल कमेंट करेंगे। उन्होंने कहा है कि इस नियम को लागू करने में तो शासन के सामने कोई समस्या नहीं होनी चाहिए। अब देखना यह है कि के इस तर्क का शासन के पास क्या जवाब होगा।

Previous articleअल्मोड़ा न्यूज : 460 ग्राम चरस के साथ एक व्यक्ति गिरफ्तार
Next articleऋषिकेश न्यूज़ : गांवों में लगातार जारी है एम्स की सोशियल आउटरीच सेल की मुहिम

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here