अल्मोड़ाउत्तराखंड

अल्मोड़ा न्यूज: गोल्डन कार्ड में समान कटौती से खफा हुए पेंशनर्स, सीएम को भेजा ज्ञापन, विधानसभा उपाध्यक्ष से मिला सकारात्मक आश्वासन

सीएनई रिपोर्टर, अल्मोड़ा
गोल्डन कार्ड के नाम पर पेंशनर्स की पेंशन से सेवारत कर्मचारियों के समान ही कटौती किए जाने से गर्वनमैन्ट पेंशनर्स वेलफेयर आर्गनाइजेशन उत्तराखण्ड बेहद खफा है। संगठन की जनपद शाखा अल्मोडा ने इसी मुद्दे पर जिला प्रशासन के माध्यम से मुख्यमंत्री को ज्ञापन भेजा और यहां विधानसभा के उपाध्यक्ष रघुनाथ सिंह चौहान को भी ज्ञापन सौंपा। जिसमें श्री चौहान ने मांगों पर सकारात्मक कार्यवाही का आश्वासन दिया है।
ज्ञापन में कहा है कि उत्तराखण्ड शासन दवारा अटल आयुष्मान योजना अन्तर्गत वर्तमान में राजकीय कर्मचारियों एव पेशनरों व पारिवारिक पेंशनर्स के गोल्डन कार्ड बनाये जा रहे हैं। मगर इसके लिए सेवारत कर्मचारियों, पेंशनर्स एवं पारिवारिक पेंशनर्स तीनों के वेतन/पेंशन से समान दर पर 250 रुपये, 450 रुपये, 650 रुपये, 1000 रुपये की कटौती की जा रही है। कोषागारों को कटौती के निर्देश दिए हैं। ज्ञापन में कहा है कि समान कटौती का संगठन विरोध करता है। संगठन का कहना है कि वेतन और पेंशन में काफी अंतर है। ऐसी स्थिति में समान कटौती अपमानजनक एवं अन्यायपूर्ण है। संगठन का कहना है कि गोल्डन कार्ड बनाये जाने का प्राविधान वैकल्पिक होना चाहिए और ग्रामीण क्षेत्रों रहने वाले पेंशनर्स के गोल्डन कार्ड अभी तक नहीं बन पाने पर भी आक्रोश जताया है। यह ज्ञापन जिला अधिकारी के माध्यम से मुख्यमंत्री को प्रेषित किया गया है।
ज्ञापन में गोल्डन कार्ड के लिए पेंशनर्स की कटौती आधी करने, पेंशनर्स को गोल्डन कार्ड बनाने या नहीं बनाने के लिए विकल्प देने एवं गोल्डन कार्ड बनाये जाने का समय मार्च 21 किये जाने की मांग शामिल है। इसके अलावा विधानसभा के उपाध्यक्ष रघुनाथ सिंह चौहान को संगठन प्रतिनिधियों ने अल्मोड़ा में सौंपा। उपाध्यक्ष श्री चौहान ने इस संबंध में अपर सचिव उतराखण्ड शासन देहरादून से टेलीफोन पर वार्ता भी की और आश्वासन दिया कि कि मुख्यमंत्री से वार्ता करने मामले पर कार्यवाही की जायेगी। ज्ञापन देने वालों में चन्द्रमणी भट्ट, एमसी काण्डपाल, पीएस बोरा, आनन्द बल्लभ लोहनी, पीएस सत्याल, नवीन पाठक, हेम जोशी, गिरीश चन्द्र तिवारी आदि पेंशनर्स शामिल थे।

Leave a Comment!

error: Content is protected !!