ननिया मां और बेटी शिबा (फाइल फोटो)

काशीपुर अपडेट| उत्तराखंड के ऊधमसिंह नगर जिले के काशीपुर मोहल्ला अलीखां निवासी मां और बेटी की दिनदहाड़े धारदार हथियार से गला रेतकर हत्या कर दी गई। वारदात को अंजाम देने के बाद हत्यारोपित ने बांसफोड़ान चौकी पहुंचकर जुर्म कबूल करने के साथ सरेंडर कर दिया है। पुलिस ने आरोपित को हिरसत में लेकर मामले की जांच शुरू कर दी है।

मिली जानकारी के अनुसार 45 वर्षीय ननिया पत्नी रईस अपनी 22 वर्षीय बेटी शिबा के साथ काशीपुर के अलीखां में रहती थी। ननिया का पति और उसका बेटा खाड़ी देश में काम करते हैं। गुरुवार को करीब पौने 11 बजे अलीखां मोहल्ले का निवासी सलमान धारदार हथियार लेकर ननिया के घर के पास पहुंचा। जहां उसने पहले सड़क पर ही शिबा की गला रेतकर हत्या कर दी। उसके बाद खून से सना हथियार लेकर घर में जा घुसा और ननिया का भी गला रेत दिया।

मां-बेटी को मैंने मार डाला

दिनदहाड़े दो हत्याओं को अंजाम देने के बाद सलमान खून से सना हथियार लेकर बांसफोड़ान चौकी पहुंच गया। जहां उसने मौजूद पुलिसकर्मियों से कहा कि मैंने मां और बेटी की गला रेतकर हत्या कर दी है। इतना सुनते ही चौकी पर हड़कंप मच गया। पुलिस कर्मियों ने आनन-फानन में उसे हिरासत में लिया। उसके बाद अधिकारी दल बल के साथ मौके पर पहुंचे। शव को कब्जे में लेकर पंचनामा भरने के बाद पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया गया।




प्रेम-प्रसंग में सलमान ने की हत्या

बताया जा रहा है कि सलमान और शिबा का प्रेम-प्रसंग चल रहा था, लेकिन बीते कुछ दिनों से दोनों में अनबन थी। सलमान का कहना है कि शिबा ने उसको धोखा दिया है। गुरुवार को उसके सिर पर जैसे खून सवार हो गया हो। उसने पहले घर के बाहर सड़क पर ही शिबा को मौत के घाट उतारा उसके बाद घर में घुसकर उसकी मां को भी मार डाला।

हत्यारोपित से की जा रही है पूछताछ : एसपी

एसपी चन्द्रमोहन सिंह ने बताया कि सलमान ने मां और बेटी की धारदार हथियार से गला रेतकर हत्या करने की बात कबूल की है। उसे हिरासत में लेकर पूछताछ की जा रही है। उसका कहना है कि प्रेम-प्रसंग में धोखा के कारण उसने वारदात को अंजाम दिया है। शवों को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया गया है। मामले की जांच की जा रही है।

यह भी पढ़े : 16 सीनियर IAS अफसरों का तबादला, देखें सूची

Advertisement

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here