नई दिल्ली। अफगानिस्तान में तालिबान का कहर जारी है। सूत्रों के मुताबिक काबुल एयरपोर्ट से तालिबानी 150 लोगों को जबरन अपने साथ लेकर गए हैं। इन लोगों में ज्यादातर भारतीय नागरिक हैं। सूत्रों के मुताबिक इनमें अफगानी नागरिक और अफगानी सिख के अलावा ज्यादातर आम भारतीय नागरिक शामिल हैं।

इन लोगों में शामिल एक शख्स जो अपनी पत्नी के साथ था और तालिबानी चंगुल से बचकर भागने में सफल रहा, उसने बताया कि आज रात एक बजे ये लोग एक वाहन के जरिए एयरपोर्ट पहुंचे थे लेकिन कॉर्डिनेशन ठीक नहीं होने चलते ये लोग एयरपोर्ट के भीतर एंट्री नहीं पा सके।

सूत्रों के मुताबिक बिना हथियार के कुछ तालिबानी आए और लोगों के साथ मारपीट की और फिर उन्हें काबुल के तारखिल ले गए। शख्स ने बताया कि वह और उसकी पत्नी कार से कूदकर भागने में सफल रहे। उसने बताया कि कुछ लोग ही कार से कूद पाए बाकी अन्य लोगों के साथ क्या होगा वह नहीं जानता।


👉👉  ताजा खबरों के लिए WhatsApp Group को जॉइन करें 👉 Click Now 👈

उसने बताया कि तालिबानियों का कहना था कि वह उन्हें दूसरे गेट से एयरपोर्ट से जा रहे हैं, लेकिन यह साफ नहीं हो पाया है कि वह उन्हें एयरपोर्ट ले गए या कहीं और लेकर गए हैं। हालांकि तालिबानियों की तरफ से इस रिपोर्ट को लेकर इनकार किया गया है। तालिबानी प्रवक्ता अहमदुल्ला वसीक ने 150 लोगों को अगवा करने की खबर को नकारा है।

कई अफगान मीडिया आउटलेट्स ने काबुल से निकासी की प्रतीक्षा कर रहे व्यक्तियों के तालिबान द्वारा अपहरण की रिपोर्ट दी। इनमें भारतीय नागरिक बताए जा रहे हैं। इसकी कोई आधिकारिक पुष्टि नहीं, अधिक जानकारी की प्रतीक्षा है।

काबुल पहुंचा मुल्ला बरदार
तालिबान का को- फाउंडर सरकार बनाने को लेकर चर्चा करने काबुल पहुंचा है। मुल्ला अब्दुल गनी बरदार काबुल में जिहादी नेताओं और राजनीतिज्ञों से भी मुलाकात करेगा। हाल ही में तालिबानी नेताओं ने हामिद करजई, अब्दुल्ला अब्दुल्ला से भी मुलाकात की थी और भरोसा दिलाया था कि मौजूदा तालिबान पहले के तालिबान से ज्यादा उदार होगा।

आ गई बच्चों के लिए DNA पर आधारित कोरोना वैक्सीन, जायडस कैडिला के टीके को DCGI की मंजूरी

उत्तराखंड : सीपीयू प्रभारी की कार को टक्कर मारने वाले ट्रक को लेकर जा रहा क्रेन संचालक को ट्रक ने कुचला, मौत

- Advertisement -

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here