रेलवे ब्रेकिंग : लंबी दूरी की इन मेल व एक्सप्रेस ट्रेनों से हटा दिए जाएंगे नॉन ऐसी कोच, क्या है वजह और कितना होगा किराया जानिए इस खबर में…

7
सांकेतिक फोटो

नई दिल्ली। यदि सब कुछ ठीक ठाक चलता रहा तो आने वाले कुछ ही महीनों में भारतीय रेलवे, रेल नेटवर्क को अपग्रेड करने की तैयारी में भी लगी है। स्वर्णिम चतुर्भुज योजना के तहत लंबी दूरी की मेल और एक्सप्रेस ट्रेनों से स्लीपर कोच को पूरी तरह खत्म कर दिए जाएगा। यानी इन ट्रेनों में सिर्फ एसी बोगियां ही रहेंगी। इस तरह की ट्रेन की रफ्तार 130/160 किमी प्रति घंटा होंगी । दरअसल मेल और एक्सप्रेस ट्रेनें के 130 किमी प्रति घंटे या उससे अधिक की रफ्तार से चलने पर नॉन-एसी कोच तकनीकी समस्याएं पैदा करते हैं। इसलिए इस तरह की सभी ट्रेनों से स्लीपर कोच को खत्म कर दिया जाएगा।

क्रिएटिव न्यूज एक्सप्रेस की खबरों को अपने मोबाइल पर पाने के लिए लिंक को दबाएं

लंबी दूरी की मेल और एक्सप्रेस ट्रेनों में फिलहाल 83 एसी कोच लगाने का प्रस्ताव है। हालांकि इस साल के अंत तक कोच की संख्या बढ़ाकर 100 कर दी जाएंगी। वहीं अगले साल कोच की संख्या 200 किए जाने का प्लान है। यानी कि आने वाले समय में यात्रा और ज्यादा आरामदायक और कम समय लेने वाला होगा। अच्छी बात यह है कि इसके बदले में किराया भी सामान्य एसी कोच के मुकाबले कम ही रखे जाने का प्लान है।
हालांकि इसका यह मतलब कतई नहीं है कि अब नॉन एसी कोच होंगे ही नहीं। असल में नॉन एसी कोच वाली ट्रेन की रफ्तार एसी कोच वाली ट्रेनों के मुकाबले कम होगी। जानकारी की मुताबिक ऐसी ट्रेन 110 किलोमीटर प्रति घंटे की रफ्तार से चलाई जाएंगी। यह सारा काम चरणबद्ध तरीके से किया जाएगा, साथ ही नए अनुभवों से सबक लेते हुए ही आगे की योजना बनाई जाएगी।

🔥 सीएनई के यूट्यूब चैनल को सब्सक्राइब करें

Previous articleनालागढ़ न्यूज : अंतरराष्ट्रीय बालिका दिवस पर नेहरू युवा केंद्र ने आयोजित किया कार्यक्रम
Next articleहल्द्वानी न्यूज : समूह ग की भर्ती की विज्ञप्ति में गृह विज्ञान का नाम न होने से प्रशिक्षत महिला बेरोजगार निराश

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here