सार्थक पहल : अब नदी में नही फेंका जायेगा सड़क कटान का मलबा, कंपनी ने शुरू किया बैरिकेटिंग व तार ​बाड़ का निर्माण, एनएच पर जारी है सड़क चौड़ीकरण का कार्य

140

सीएनई रिपोर्टर, सुयालबाड़ी


यहां अल्मोड़ा-हल्द्वानी राष्ट्रीय राजमार्ग में काकड़ीघाट से क्वारब तक किये जा रहे सड़क चौड़ीकरण के कार्य के दौरान अब मलबा—मिट्टी निर्धारित डंपिंग जोन में ही डाला जायेगा। निर्माण कार्य से जुड़ी संबंधित ऐजेंसी ने बकायदा सड़क से नीचे बैरेकेटिंग व जाली का निर्माण शुरू कर दिया है। जिससे की कोई भी मलबा नदी में ना गिरने पाये। उल्लेखनीय है कि यहां राष्ट्रीय राजमार्ग पर अल्मोड़ा, गरमानी, भवाली, हल्द्वानी जाने वाले वाहनों का जबरदस्त दबाव रहता है।

आये दिन इस मार्ग से सैकड़ों वाहन गुजरते हैं। इस बीच यहां काकड़ीघाट से क्वारब तक सड़क चौड़ीकरण का काम वृहद स्तर पर चल रहा है। जिससे यहां से गुजरने वाले वाहन चालकों को जाम आदि की समस्याओं से भी जूझना पड़ रहा है। गत दिनों जन समस्याओं को सीएनई ने प्रमुखतासे उठाया था तथा मिट्टी—मलबा कोसी नदी में फेंके जाने की जन शिकायतों का भी उल्लेखन किया था। आखिरकार संबंधित कंपनी द्वारा मामले का संज्ञान लिया गया और यहां की व्यवस्थाएं दुरूस्त कर दी गई हैं। इस दौरान कोसी नदी की तरफ बैरिकेटिंग, दीवार निर्माण, तार बाड़ की जा रही है। जिसका उद्देश्य यही है कि सड़क कटान के दौरान कोई भी मलबा कोसी नदी में नही गिर पाये।

Big Breaking : बारात को विदा कर रही दुल्हे की मां की हृदयघात से मौत, पल भर में मातम में बदली शादी की खुशियां

Previous articleBig Breaking : बारात को विदा कर रही दुल्हे की मां की हृदयघात से मौत, पल भर में मातम में बदली शादी की खुशियां
Next articleBAGESHWER NEWS: ग्रामीणों का अल्टीमेटम-15 दिन में सड़क निर्माण नहीं हुआ, तो आंदोलन होगा

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here