उत्तराखंडकोविड-19बागेश्वरसी एन ई विशेष

बागेश्वर न्यूज : कोरोना को बुलावे जैसा है लोगों का ऐसा रवैया

बागेश्वर। जिले में कोरोना संक्रमण दिनोंदिन बढ़ता जा रहा है। साथ में कुछ लोगों की बेपरवाही का तो कहना ही क्या। लोग माॅस्क पहनने में तो लापरवाही बरत ही रहे हैं साथ ही सोशल डिस्टेंसिंग का भी खुले तौर पर उल्लंघन कर रहे हैं। सुबह के वक्त जिला अस्पताल, बैंक,एटीएम,कम्युनिटी सर्विस सेंटर्स पर बिना माॅस्क के लोगों का झुंड पर दिखना अब आम बात है।

इस ओर ना प्रशासन का ध्यान है और ना ही पुलिस का । हालात तब है जब कोरोना संक्रमित की गतिविधि खंगालना भूसे के ढेर से सुई खोजने जैसी हो। सरकारी कर्मचारी पाॅजिटिव आ रहे हैं, लंबे समय से शहर से बाहर नहीं जाने वालों का कोरोना संक्रमित आना जनपद वासियों के लिए अच्छे संकेत नहीं है।

कोरोना संक्रमण दिनोंदिन बढ़ता जा रहा है। लेकिन, इसके बाद भी लोग मास्क नहीं पहन रहे हैं। सोशल डिस्टेंसिंग और मास्क कोरोना से बचाव के लिए अनिवार्य हैं। कोरोना संक्रमण से बचाव के लिए सभी को मास्क पहनना अनिवार्य है। यदि कोई व्यक्ति मास्क नहीं पहनता है तो उसे जुर्माना अदा करना पड़ता है।

मास्क लोगों की स्वयं की सुरक्षा के लिए है, लेकिन इसके बाद भी लोग मास्क नहीं पहन रहे हैं। इससे एक तो कोरोना का खतरा बढ़ रहा है, दूसरे नियमों का उल्लंघन किया जा रहा है।जिले में अभी तक कोरोना के 186 पाॅजिटिव केस आ चुके है।फिर भी लोगों का ऐसा रवैया हैरान करने वाला है।

Leave a Comment!

error: Content is protected !!