अल्मोड़ाउत्तराखंड

अल्मोड़ा : सड़क के गड्ढों में रोपे पौधे, सांकेतिक विरोध के बीच नारेबाजी, 24 अगस्त को चक्काजाम की धमकी

अल्मोड़ा, 21 अगस्त। लगातार ध्यानाकर्षण के बाद भी सड़कों की दुर्दशा में सुधार नहीं लाए जाने से झल्लाए पूर्व मंत्री बिट्टू कर्नाटक ने शुक्रवार को विरोध का नया तरीका अपनाया, ताकि सरकार, शासन व​ विभाग जागे। उन्होंने सड़कों में बने बड़े—बड़े गड्ढों में सांकेतिक पौधारोपण किया। इस विरोध में उनके साथ कई ग्राम प्रधान व अन्य लोग शामिल हुए।
पूर्व मंत्री बिट्टू कर्नाटक के नेतृत्व में राष्ट्रीय राजमार्ग अल्मोड़ा-कोसी-रानीखेत में यहां आसपास सड़क के बीचों— बीच पड़े गड्ढों के मध्य पौधारोपण कर डाला। इस सांकेतिक पौधारोपण के जरिये चेताते हुए जबरदस्त नारेबाजी कर अपना विरोध प्रर्दशन किया। इस मौके पर पूर्व मंत्री बिट्टू कर्नाटक ने कहा कि मुख्यतः क्वारब-अल्मोडा, अल्मोडा-कोसी-रानीखेत मोटरमार्ग, अल्मोडा-घाट सड़कों तथा प्रान्तीय खण्ड व निर्माण खण्ड के अधीन अल्मोड़ा की आन्तरिक सडकों की स्थिति आज भयावह बनी है। सड़कों के बीचोंबीच बड़े गड्ढे बन चुके हैं। डामर पूरी तरह उखड़ चुका है, नालियां बन्द हैं तथा सड़क के किनारे भयानक झाड़ियां उग आयी हैं। आये दिन दुर्घटनायें हो रही हैं। सफर में चालकों, मरीजों व यात्रियों को मुसीबत झेलनी पड़ रही है। मुख्यमंत्री एवं विभागीय अधिकारियों को अनेक बार पत्र लिखने के बाद भी अभी तक कोई कार्यवाही नहीं की हुई। श्री कर्नाटक ने कहा कि सम्बन्धित विभागों के अधिकारी निरंकुश होकर बैठे हैं और समस्या की जानबूझ कर अनदेखी की जा रही है और मोटरमार्गो में सुधारीकरण के नाम पर मिट्टी से गड्ढों को पाटकर विभाग खानापूर्ति करके जनता को गुमराह करने का कार्य कर रहे हैं। किया जा सके ।

श्री कर्नाटक ने फिर चेतावनी दी है कि 23 अगस्त 2020 तक सरकार व विभाग नहीं चेते, तो उन्हें विवश होकर स्थानीय नागरिकों के साथ 24 अगस्त 2020 को चक्काजाम जैसा आन्दोलनात्क कदम उठाना पड़ेगा। जिसकी जिम्मेदारी शासन/विभाग व सरकार की होगी । उक्त पौध रोपकर विरोध करने वाले कार्यक्रम में श्री कर्नाटक के साथ प्रधान अधार मटेला गौरव काण्डपाल, प्रधान डोबा गोपाल तिवारी, प्रधान द्योलीखान मोहित जोशी, प्रधान बसगांव बालादत्त काण्डपाल, विमल कुमार, प्रधान बडगलभट्ट नन्दकिशोर, क्षेत्र पंचायत सदस्य गीता जोशी, इंटक जिलाध्यक्ष दीपक मेहता, रोहित शैली, पूर्व प्रशासनिक अधिकारी देवेन्द्र प्रसाद कर्नाटक, हेम चन्द्र जोशी, दीप नारायण बिष्ट, करन बिष्ट, गौरव चैहान, गोपाल चैहान, कुन्दन लाल, भूपेन्द्र शैली, कुलदीप कुमार, शशि कुमार शैली, राकेश कुुमार आर्या सहित अनेकों स्थानीय जन उपस्थित थे।

Leave a Comment!

error: Content is protected !!