प्रतीक चित्र

सीएनई रिपोर्टर

पिथौरागढ़ जिला मुख्यालय के निकटवर्ती एक गांव में आत्महत्या करने वाली एक लड़की का दफनाया गया शव पुलिस ने गढ्ढे से निकालने के बाद पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है। इस संबंध में पुलिस को एक कॉल आई थी, जिसमें लड़की के मरने के बाद उसके परिजनों द्वारा चुपचाप गड्ढे में गाढ़ देने का आरोप लगाया गया था।

कोरोना से जंग : कोरोना के नये वैरिएंट ने बढ़ाई चिंता, पढ़िये कब तक आ रही बच्चों की वैक्सीन…

जिस पर पुलिस ने त्वरित कार्रवाई करते हुए लाश दोबारा निकाल ली। इस दौरान मृतका के परिजनों व गांव के कुछ लोगों के साथ पुलिस का विवाद भी हुआ। तहसीलदार पंकज चंदोला आज पुलिस टीम के साथ मौके पर पहुंचे। दफन लाश को दोबारा निकालने की कार्रवाई के दौरान लड़की के परिजनों ने काफी हंगामा भी किया। ताजा खबरों के लिए WhatsApp Group को जॉइन करें 👉 Click Now 👈

👉👉  ताजा खबरों के लिए WhatsApp Group को जॉइन करें 👉 Click Now 👈

उत्तराखंड : महिला से अभद्रता का आरोपी एसआई निलंबित, जांच के आदेश

परिजनों का कहना था कि उनकी लड़की मानसिक रूप से अस्वस्थ थी और उसने आत्महत्या कर ली। इधर पुलिस ने बताया कि इस तरह की अस्वभाविक मौतों पर पोस्टमार्टम की प्रक्रिया अनिवार्य है। अतएव शव को दोबारा गढ्ढे से निकाल लिया गया। शव का आज बुधवार को पोस्टमार्टम होगा, जिसके बाद शव परिजनों को सौंप दिया जायेगा।

- Advertisement -

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here