उत्तराखंडदेहरादून

देहरादून : श्रद्धा पूर्वक मनाया गया गुरु गोविन्द सिंह जी का प्रकाश पर्व

देहरादून। गुरुद्वारा साहिब बाबा फतेह सिंह जी के तत्वावधान में श्री गुरु गोविन्द सिंह जी का प्रकाश पर्व एवं बाबा दीप सिंह जी का जन्म दिवस श्रद्धा पूर्वक कथा कीर्तन के रूप में मनाया गया।
गुरुद्वारा साहिब बाबा फतेह सिंह जी, चखुवाला में प्रात: श्री अखण्ड पाठ के भोग के पश्चात हजूरी रागी भाई गुरबचन सिंह ने शब्द “मैं हों परम् पुरख को दासा, देखन आयो जगत तमाशा” एवं भाई जरनैल सिंह महक, देहरादून वालों ने शब्द “वाह वाह गोविन्द सिंह जी आपे गुर चेला, तथा, “धन धन पिता धन धन कुल “का गायन कर संगत को निहाल किया।

रुद्रपुर से पधारे कथावाचक भाई सतनाम सिंह ने कहा कि गुरु जी का जीवन कर्मवीर दानवीर, प्रेमवीर, विद्यावीर, क्षमावीर आदि गुणों से भरपूर था। गुरु जी ने हमेशा मानस की जात सभे एके पहचानवो को सर्वोपरि माना। अरदास के पश्चात संगत ने गुरु का लंगर छका।

इस अवसर पर प्रधान गगनदीप सिंह भाटिया, जनरल सेक्रेट्री डॉ. मनमोहन सिंह जस्सल, जथेदार सुखदेव सिंह, उपाध्यक्ष मनजीत सिंह, कोषाध्यक्ष प्रीतपाल सिंह, सचिव मनविंदर सिंह आनन्द, स्टोर इंचार्ज जसकीरत सिंह, मनजीत सिंह, मनमोहन सिंह आदि उपस्थित थे। गुरपुरब कमेटी ओएनजीसी, देहरादून द्वारा राजिंदर नगर, लेन नम्बर 8 में गुरुगोविंद सिंह जी का 354 वां प्रकाश पर्व कथा कीर्तन के रूप में श्रद्धा एवं उत्साह पूर्वक मनाया गया।

स्त्री सतसंग सभा सय्यद मोहल्ला ने शब्द “वाह वाह गोविंद सिंह आपे गुर चेला, एवं भाई गुरदियाल सिंह ने शब्द “हम एह काज जगत मो आये” का गायन कर संगत को निहाल किया, सय्यद मोहल्ले गुरद्वारे के हैड ग्रंथी भाई हरी सिंह ने गुरु गोविन्द सिंह जी के जीवन पर प्रकाश डाला, कार्यक्रम के पश्चात संगत ने गुरु का लंगर छका।

Leave a Comment!

error: Content is protected !!