उत्तराखंडपिथौरागढ़

पिथौरागढ़ न्यूज: विजय दिवस पर जिला व पुलिस प्रशासन का साझा भव्य कार्यक्रम, वीर शहीदों को पुष्पचक्र व श्रद्धासुमन अर्पित, बालिकाओं ने निकाला बैंड मार्चपास्ट

सीएनई सहयोगी, पिथौरागढ़
विजय दिवस के उपलक्ष में जनपद पिथौरागढ़ पुलिस द्वारा जिला प्रशासन के साथ समन्वय स्थापित करते हुए टीआरसी उल्का देवी मंदिर के पास स्थित शहीद स्मारक स्थल में कार्यक्रम आयोजित किया। जिसमें वर्ष 1971 के युद्ध में शहीद हुए वीर सैनिकों की स्मृति में श्रद्धासुमन व पुष्प चक्र अर्पित किये गये। बालिकाओं ने बैंड मार्चपास्ट निकाला। जिलाधिकारी व पुलिस अधीक्षक समेत तमाम अधिकारी कार्यक्रम में शामिल हुए।
उल्लेखनीय है कि भारतीय सेना द्वारा वर्ष 1971 में पाकिस्तान पर विजय प्राप्त करने के उपलक्ष्य में हर वर्ष 16 दिसम्बर को विजय दिवस के रूप में मनाया जाता है। बुधवार को विजय दिवस के मौके पर जिले में विविध कार्यक्रम आयोजित हुए। वीर शहीदों को श्रद्धांजलि देकर उन्हें याद किया गया। प्रातः 9 बजे से जिला मुख्यालय में घंटाकरण से शहीद स्मारक स्थल तक राजकीय बालिका इंटर कॉलेज पिथौरागढ़ एवं एंचोली की बालिकाओं ने बैंड मार्चपास्ट निकाला। तत्पश्चात शहीद स्मारक स्थल पर शहीदों को श्रद्धांजलि दी गई। वीर नारियों, पूर्व सैनिकों, पुलिस के कोरोना वारियर्स व एनवाईके के कोरोना वॉरियर्स को सम्मानित किया गया। गंगोत्री बालिका व एंचोली राजकीय बालिका इंटर कॉलेज की छात्राओं ने देशभक्ति से ओतप्रोत गीत प्रस्तुत किए।
जिलाधिकारी डॉ. विजय कुमार जोगदण्डे ने वीर शहीदों को श्रद्धांजलि देते हुए कहा कि यह गौरवशाली जनपद है। देश की सीमा की रक्षा में पिथौरागढ़ जनपद ने भी देश में अग्रणी स्थान बनाया है। उन्होंने कहा कि वर्ष 1971 की लड़ाई गौरवशाली लड़ाई रही है। उन्होंने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के आह्वान के अनुसार विजय दिवस के 50वें साल के उपलक्ष्य में इस बार पूरे वर्ष भर अनेक कार्यक्रम आयोजित करने और वीर सैनिकों को सम्मान देने को कहा। जिलाधिकारी ने सैनिक कल्याण विभाग से कहा कि पूरे वर्षभर ऐसे आयोजन के लिए कार्यक्रमों का निर्धारण किया जाए और इसमें विभिन्न विभागों का सहयोग लिया जाए। जिलाधिकारी डॉ. विजय कुमार जोगदण्डे द्वारा पुलिस विभाग की एसआई दीप्ति लोहनी व एचसीपी मोहन बरदोला को कोविड-19 के संक्रमण की रोकथाम को जनपद में सराहनीय कार्य करने के लिए प्रशस्ति पत्र देकर सम्मानित किया।
पुलिस अधीक्षक प्रीति प्रियदर्शिनी ने कहा कि जो बलिदान इन वीर सपूतों ने देश के लिए दिया है, उससे प्रेरणा लेकर हम जहां पर भी काम कर रहे हों, जिस सेवा में हों, वहीं पर बेहतर कार्य करें। साथ ही पूर्ण निष्ठा एवं ईमानदारी से कार्य करके देश व समाज की सच्ची सेवा कर सकते हैं। यही वीर शहीदों को हमारी सच्ची श्रद्धांजलि होगी।

नगरपालिका अध्यक्ष राजेन्द्र रावत ने वीर शहीदों को याद करते कहा कि पिथौरागढ़ जिले से लगभग अधिकांश परिवारों से वीर सैनिक देश की रक्षा में जुटे हैं। कार्यक्रम में मुख्य विकास अधिकारी डॉ. सौरभ गहरवार, अपर जिलाधिकारी आरडी पालीवाल, मुख्य कोषाधिकारी डॉ. पंकज शुक्ला, जिला सैनिक कल्याण अधिकारी ले. कर्नल वीबी भट्ट (से.मे.), पुलिस क्षेत्राधिकारी आरएस रौतेला, पालिका के ईओ मनोज दास, नेहरू युवा केंद्र के समन्वयक ध्रुव डोगरा, ले.कर्नल एसपी गुलेरिया, 1971 की लड़ाई की वीरांगना शकुंतला देवी, जयंती देवी, लछमा देवी, के. गोपाल सिंह, चंचल सिंह, सहायक जिला सैनिक कल्याण अधिकारी सूबेदार हीरा चंद समेत अन्य अधिकारी उपस्थित रहे ।

Leave a Comment!

error: Content is protected !!