सांकेतिक फोटो

रुद्रपुर| दिवाली के दिन मेट्रोपोलिस कॉलोनी गेट पर पटाखे के कारण हुए विवाद के बाद बिलासपुर के युवक दलजीत सिंह की हत्या के पीछे पुलिस सिपाही की लापरवाही भी सामने आई है। वारदात से पूर्व सिडकुल चौकी में तैनात कांस्टेबल को दो-तीन बार विवाद की सूचना दी गई थी। लेकिन वह समय से मौके पर नहीं पहुंचा था। इसका पता चलते ही अब एसएसपी मंजूनाथ टीसी ने कांस्टेबल को ड्यूटी में लापरवाही बरतने पर निलंबित कर दिया है।

नैनीताल हाईवे से लगे पॉश कॉलोनी मेट्रोपोलिस गेट पर सोमवार रात बिलासपुर के दलजीत सिंह की गोली मारकर हत्या कर दी गई थी। इस मामले में पुलिस ने मुकदमा दर्ज कर मुख्य हत्यारोपित गुरवीर सिंह, प्रभजोत सिंह के साथ ही कंवल सिंह, अमनदीप सिंह और जतिन वर्मा को गिरफ्तार कर लिया है। जबकि एक नामजद समेत पांच-छह अन्य की तलाश में पुलिस जुटी हुई है।

इधर, पुलिस जांच के दौरान पता चला कि दलजीत सिंह की हत्या से पहले गेट पर विवाद हो रहा था। इस पर सिडकुल चौकी में तैनात कांस्टेबल हेमंत जोशी को दो-तीन बार विवाद की सूचना दी गई, लेकिन वह समय से मौके पर नहीं पहुंचा था। समय रहते कांस्टेबल मौके पर पहुंच जाता तो बड़ी घटना टल सकती थी।


अब इसे गंभीरता से लेते हुए एसएसपी मंजूनाथ टीसी ने कांस्टेबल को ड्यूटी में लापरवाही बरतने पर निलंबित कर दिया है। साथ ही एसएसपी ने कहा है कि सूचना मिलने पर पुलिस तत्काल मौके पर पहुंचे और कार्रवाई करें। ड्यूटी में लापरवाही बरतने वाले पुलिस अधिकारी और कर्मचारियों के विरुद्ध सख्त कार्रवाई की जाएगी।

उत्तराखंड में 1 नवंबर तक मौसम शुष्क रहने की संभावना

Advertisement

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here