अपराधउत्तराखंडऊधमसिंह नगर

रुद्रपुर अपडेट : पुलिस को मिली पहली सफलता साढ़े चार फीट की गहराई से निकला पहला कंकाल

रुद्रपुर। राजा कालोनी में एक ही परिवार के चार लोगों की हत्याओं के बाद गड्ढे में दबाए जाने के मामले में पुलिस को घर के कमरे में की गई खुदाई में पहली सफलता मिल गई है। गड्ढे से एक लाश बरामद हो गई है। लगभग साढ़े चार फीट की गहराई से पुलिस को पहला शव बरामद हुआ है। सूत्रों के मुताबिक हत्यारोपी दामाद नरेंद्र गंगवार ने पुलिस को बताया था कि उसने अपने मित्र की सहायता से एक ही गड्ढा खोद कर उसमें चारों शव दफन किए थे। गड्ढे से पहला कंकाल मिलने के बाद पुलिस को उम्मीद जगी है कि अन्य शवों के कंकाल भी यहीं से बरामद होंगे। इस बीच खुदाई कार्य की निगरानी करने के लिए रुद्रपुर पहुंचे आईजी अजय रौतेला और एसएसपी दिलीप सिंह कुंवर मौके से लौट गए हैं। संकरी गली होने के कारण पुलिस को मौके पर लोगों की भीड़ रोकने में परेशानी हो रही है। आसपास के थाने की पुलिस व तमाम पुलिस अधिकारी अभी भी मौके पर डटे हुए हैं।

👉 न्यूज़ व्हाट्सएप ग्रुप Click Now 👈

रुद्रपुर अपडेट : …तो ऐसा खुला एक साथ चार हत्याओं के रहस्य से पर्दा, अभी चल रही खुदाई

रुद्रपुर। रुद्रपुर के ट्रांजिट कैंप का राजा कालोनी में एक ही परिवार के चार सदस्यों की मौत के मामले में सूत्रों के हवाले से कुछ और जानकारी निकल कर सामने आई हैं। हालांकि अभी शवों को निकालने के लिए पुलिस खुदाई करवा रही है, लगभग चार फीट गहराई के गड्ढे खोदे जा चुके हैं। सूत्रों के मुताबिक काफी संभावना है कि यहां से कंकाल पुलिस को मिलेंगें। सूत्रों से मिल रही जानकारी के अनुसार राजा कालोनी में रहने वाले साठ वर्षीय हीरा लाल की बड़ी बेटी लीलावती का विवाह बरेली के मीरगंज निवासी नरेंद्र गंगवार के साथ हुआ था।

चूंकि हीरा लाल के कोई बेटा नहीं था इसलिए उसने नरेंद्र को घर जवाईं रख लिया। वर्ष 2015 तक नरेंद्र हीरालाल के घर में घर जवाईं बन कर रहा। इसके बाद आपस में विवाद होने के बाद वह हीरा लाल का घर छोड़ गया। पुलिस सूत्रों के अनुसार नरेंद्र, हीरालाल से उसकी मीरगंज स्थित लगभग 12 बीघा जमीन पर अपना हक मांग रहा था। 25 अगस्त को नरेंद्र मीरगंज पहुंचा और वहां हीरालाल के परिचित दु्र्गाप्रसाद से मिला। उसने बताया कि उसके श्वसुर हीरालाल, सास हेमावती, और दो सालियों पार्वती और दुर्गा की मृत्यु हो चुकी है और अब उसे श्वसुर की मीरगंज की जमीन में उसका हिस्सा दे दिया जाए।

👉 न्यूज़ व्हाट्सएप ग्रुप Click Now 👈

दुर्गाप्रसाद को नरेंद्र गंगवार की कहानी में झोल दिखा तो उसने रुद्रपुर पुलिस के सामने अपना संदेह व्यक्त कर दिया। इसके बाद रुद्रपुर पुलिस ने मामले को गंभीरता से लेते हुए नरेंद्र को हिरासत में लेकर उससे पूछताछ शुरू की। थोड़ी ही सख्ती बरतने पर नरेंद्र टूट गया और उसने पुलिस को बता दिया कि उसने साठ वर्षीय श्वसुर हीरालाल, 55 वर्षीय सास हेमा देवी, 24 वर्षीय साली पार्वती और बीस वर्षीय छोटी साली दुर्गा की हत्या करके शवों को घर में ही दबा दिया है। इस जानकारी के बाद पुलिस आज राजा कालोनी स्थित हीरालाल के आवास पर पहुंची जहां पुलिस ने नरेंद्र के तस्दीक पर खुदाई शुरू करवाई। इसबीच पुलिस ने नरेंद्र की पत्नी लीलावती को भी हिरारसत में ले रखा है।

रुद्रपुर अपडेट : …तो प्रापर्टी के लालच में दामाद ने ही मार कर गाढ़ दिए दिए थे सास, श्वसुर और दो सालियां!

रुद्रपुर। यहां की ट्रांजिट कैंप थाना क्षेत्र के अतर्गत आने वाली राजा कालोनी में मिले चार हत्याओं के पीछे घर के दामाद का ही हाथ था। पुलिस सूत्रों से मिल रही जानकारी के अनुसार उसने ही अपने एक मित्र के साथ मिलकर एक साल पहले अपने श्वसुर, सास और दो सालियों की हत्या करवा कर शवों को घर में ही दफना दिया था। बताया जा रहा है कि बहेड़ी के रहने वाले दामाद नरेंद्र गंगावार की नजर अपनी श्वसुर की प्रॉपर्टी पर थी। इस बीच किसी ने पुलिस को खबर कर दी। और आज पुलिस ने जब घर के अंदर जमीन खुदवाई तो एक दो नहीं पूरे चार कंकाल बरामद हुए।

रुद्रपुर ब्रेकिंग : ट्रांजिट कैंप में चार लोगोें की हत्या के बाद शव जमीन में दबाए, घर पर पुलिस का जमावड़ा

रुद्रपुर। यहां की ट्रांजिट कैंप थाना क्षेत्र के अतर्गत आने वाली राजा कालोनी में एक घर में चार लोगों के शव मिलने से सनसनी फैल गई है। पुलिस के तमाम अधिकारी मौके पर है। बताया जा रहा है कि हत्या करने के बाद शवों को जमीन में दबा दिया गया था। कुछ ही देर में आईजी कुमाऊं अजय रौतेला भी मौके पर पहुंचने वाले हैं। मृतक कौन है, शव किन हालातों में मिले। मकान किसका था, घटना के पूरे विवरण की प्रतीक्षा है।

👉 न्यूज़ व्हाट्सएप ग्रुप click now 👈

Leave a Comment!

error: Content is protected !!