अल्मोड़ाउत्तराखंड

अल्मोड़ा न्यूज: जनपद के हर थाने में अधिकारों से रूबरू हुए अल्पसंख्यक, विश्व अल्पसंख्यक अधिकार दिवस पर गोष्ठियां

सीएनई रिपोर्टर, अल्मोड़ा
वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक प्रहलाद नारायण मीणा के निर्देशन में जनपदभर में थाना स्तर पर विश्व अल्पसंख्यक अधिकार दिवस गोष्ठियां आयोजित की गई। जिसमें अल्पसंख्यक समुदाय के लोगों को उनके अधिकारों से रूबरू कराया गया। साथ ही उनसे संबंधित कल्याणकारी योजनाओं की जानकारी दी।
यहां पुलिस उपाधीक्षक वीर सिंह ने यहां थाना कोतवाली में विश्व अल्पसंख्यक अधिकार दिवस के मौके पर अल्पसंख्यक समुदायों क्रिश्चियन, मुस्लिम, बौद्ध, सिक्ख, जैन, पारसी के व्यक्तियों की गोष्ठी की। जिसमें इन समुदायों के लोगों को उनके अधिकारों से अवगत कराया और सीओ ने उनकी समस्यायें पूछीं। साथ ही कानून एवं शान्ति व्यवस्था बनाये रखने में पुलिस का सहयोग करने की अपील की। उन्हें अल्पसंख्यकों के संवैधानिक अधिकार, संरक्षण एवं अल्पसंख्यकों के कल्याण की योजनाओं एवं छात्रवृत्ति विकास तथा लघु व शिक्षा ऋण योजनाओं व अन्य योजनाओं के बारे में जानकारी दी गई। निरीक्षक बसंती आर्य ने अपराधों को रोकने में सहयोग प्रदान करने की अपील की और पम्पलेट व उत्तराखण्ड अल्पसंख्यक आयोग द्वारा प्रकाशित पुस्तिकों का वितरण किया। कार्यक्रम में अधिवक्ता प्रेम चन्द्र, अथर इलाही, अब्दुल नियाज कुरैसी, परवेज कुरैसी, इम्तियाज कुरैसी, मो. गुफरान कुरैसी आदि उपस्थित थे।

इसके अतिरिक्त जिले के सभी थानाध्यक्षों ने गोष्ठी आयोजित की। भतरौंजखान में अनीश अहमद, लमगड़ा में सुनिल बिष्ट, दन्या में संतोष देवरानी, सल्ट में धीरेन्द्र पंत, कोतवाली रानीखेत में एसआई बृजमोहन भट्ट, महिला थाना में एचसीपी पुष्पा ने गोष्ठी में अल्पसंख्यकों को उनके अधिकारों से अवगत कराया और कोरोना संक्रमण से बचाव के लिए जागरुक किया।
सोमेश्वर। यहां अल्पसंख्यक अधिकार दिवस पर थाने में थानाध्यक्ष राजेन्द्र बिष्ट द्वारा गोष्ठी आयोजित की गई। गोष्ठी में अल्पसंख्यकों को उनके मौलिक अधिकारों एवं सरकार की विभिन्न कल्याणकारी योजनाओं से अवगत कराया गया। गोष्ठी में उत्तराखण्ड अल्पसंख्यक आयोग, अल्पसंख्यक कल्याण विभाग एवं उत्तराखण्ड पुलिस विभाग के सहयोग से पुस्तकें प्रदान की गयी।

Leave a Comment!

error: Content is protected !!