रामनगर न्यूज़ : कृषि विधेयक बिल के विरोध में केंद्र सरकार व प्रधानमंत्री के खिलाफ नारेबाजी-प्रदर्शन

1

📰 खबरों के लिए जुड़े व्हाट्सप्प ग्रुप से 👉 Click Now 👈

रामनगर। केंद्र सरकार द्वारा पारित किए गए कृषि विधेयक बिल के विरोध में कांग्रेस कार्यकर्ताओं द्वारा आज केंद्र सरकार व प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के खिलाफ जमकर नारेबाजी व प्रदर्शन करते हुए विरोध किया गया। कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने ऐलान किया कि जब तक यह काला कानून वापस नहीं हो जाता तब तक उनका संघर्ष जारी रहेगा। बुधवार को पूर्व विधायक कांग्रेस प्रदेश उपाध्यक्ष रणजीत सिंह रावत के नेतृत्व में कार्यकर्ताओं ने ग्राम माल धन चौड से ट्रैक्टर ट्राली व बाइकों से कृषि विधेयक बिल के विरोध में जुलूस निकाला यह जुलूस पीरूमदार,कानियां और अन्य कई ग्रामीण क्षेत्रों में घूमता हुआ रामनगर पहुंचा और वहां रानीखेत रोड पर हुई जनसभा में तब्दील हो गया।

सभा में बोलते हुए पार्टी के प्रदेश उपाध्यक्ष व पूर्व विधायक रणजीत सिंह रावत ने कहा कि केंद्र सरकार द्वारा पारित यह बिल किसानों के खिलाफ है उन्होंने कहा कि राज्यसभा में बहुमत ना होने के बाद भी सरकार ने आनन-फानन में इस काले कानून को किसानों के लगाया कि केंद्र सरकार अडानी व अंबानी दो परिवारों को फायदा पहुंचाने के मकसद से इस बिल को लाकर किसानों का दम घोटने का काम कर रही है। साथ ही उन्होंने कहा कि उक्त दोनों लोग किसानों की फसल सस्ते में खरीद कर उसे अधिक दामों में बेचने का काम करेंगे जिसे सहन नहीं किया जाएगा।

उन्होंने कहा कि अभी तो हमने राज भवन इस मामले को लेकर कुछ किया था तथा आज यह विरोध रामनगर विधानसभा में किया जा रहा है इसके बाद प्रदेश की सभी विधानसभा तहसील व मुख्यालय में भी केंद्र सरकार की इस नीति का पुरजोर विरोध जारी रहेगा।

कार्यक्रम में नगर पालिका अध्यक्ष हाजी मोहम्मद अकरम, नगर अध्यक्ष डीसी हरबोला, ब्लॉक अध्यक्ष देशबंधु रावत, मालधन मंडल अध्यक्ष ओम प्रकाश, किशोरी लाल, अनिल अग्रवाल खुलासा, अतुल अग्रवाल, नरेश कालिया, दिनेश लोहनी, विनय पडालिया सुमित तिवारी, वीरेंद्र तिवारी मोहिन खान, विमला रावत व ममता आर्य आदि काग्रेंस कार्यकर्ता उपस्थित थे।

सत्य परेशान हो सकता है, पराजित नहीं : सतपाल महाराज

Previous articleसत्य परेशान हो सकता है, पराजित नहीं : सतपाल महाराज
Next articleअल्मोड़ा : कोरोना काल में तिगुनी कर दी औद्योगिक प्रशिक्षण संस्थानों की फीस, गुस्साए एनएसयूआई कार्यकर्ताओं ने फूंका सीएम का पुतला

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here