नई दिल्ली। दक्षिण पश्चिमी दिल्ली की कापसहेड़ा इलाके की ‘ठेके वाली गली’ में एक ही बिल्डिंग में पाए गए 41 कोरोना मरीजों के पीछे कहीं ना कहीं घनी आबादी को जिम्मेदार बताया जा रहा है। यहां कल ही 41 मरीजों के कोरोना पाजिटिव पाए जाने की पुष्टि हुई है।
दक्षिणी पश्चिमी दिल्ली के डीएम राहुल सिंह ने रविवार को कहा कि एक ही बिल्डिंग में जो 41 लोग कोरोना पॉजिटिव पाए गए हैं, वह सभी एक ही टॉयलेट का इस्तेमाल कर रहे थे। दरअसल, घनी आबादी वाले इस इलाके में छोटे- छोटे मकान हैं, जिसमें काफी संख्या में लोग रहते हैं।
डीएम के मुताबिक जिस बिल्डिंग में 41 कोरोना मरीज पाए गए हैं, वहां करीब 200 लोग रहते हैं। छोटे मकान और घनी आबादी की वजह से सोशल डिस्टेंसिंग का पालन न के बराबर था। उन्होंने यह भी कहा कि जो 41 लोग कोरोना पॉजिटिव पाए गए हैं, उनका आज फिर टेस्ट होगा। इसके अलावा कापसहेड़ा इलाके में और कोरोना मरीजों की संख्या बढ़ने का भी अंदेशा है।

क्या है पूरा मामला, जानने के लिए इस लिंक को क्लिक करें…



- Advertisement -

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here