रामनगर : पुरानी पेंशन स्कीम की मांग को लेकर कर्मचारी शिक्षकों ने फीते बांध मनाया काला दिवस

3

रामनगर। पुरानी पेंशन स्कीम बहाल किये जाने की मांग को लेकर कर्मचारी शिक्षकों ने आज काले फीते बांध अपने कार्यालयों में काम किया और काला दिवस मनाया। कार्मिकों ने सोशल मीडिया पर भी अपनी डी पी को नई पेंशन स्कीम का विरोध करते हुए काला रखा। कार्मिकों ने रात को 8 बजे से 9 बजे तक अपने घरों की बिजली को बंद कर विरोध की भी घोषणा की। बड़ी संख्या में कर्मचारी शिक्षक संघ भवन फारेस्ट कम्पाउंड में इकट्ठे हुए। जहां उन्होंने सार्वजनिक रूप से काले फीते बांधे।

संघ भवन में हुई सभा को सम्बोधित करते हुए पुरानी पेंशन बहाली मंच के अध्यक्ष गिरीश मेंदोला ने नई पेंशन स्कीम की खामियों पर विस्तार से प्रकाश डाला। उन्होंने कहा वर्ष 2004 में बाजपेयी सरकार के समय प्रारंभ की गई नई पेंशन स्कीम किसी भी कर्मचारी शिक्षक के हित में नहीं है। इस पेंशन का इतना जबरदस्त दुष्परिणाम है पचास हजार रुपये मासिक वेतन वाले कर्मचारियों को मात्र 3000 रुपये की पेंशन ही मिल रही है। मामला सिर्फ इतना ही नहीं है सरकार ने जिस प्रकार कर्मिकों की जी पी एफ का हजारों करोड़ रुपया शेयर मार्केट में लगा दिया है इससे स्थिति और भी बदतर हो गयी है।

👍 सीएनई के फेसबुक पेज को लाइक करें

👉 सीएनई के समाचार ग्रुप से जुड़ने के लिए क्लिक करें

🔥 सीएनई के यूट्यूब चैनल को सब्सक्राइब करें

कर्मचारी शिक्षक संगठन के मण्डलीय अध्यक्ष नवेंदु मठपाल ने कहा मोदी सरकार भी जिस प्रकार निजीकरण की नीतियों को तेज करते हुए पचास वर्ष से ऊपर के कार्मिकों को जिस प्रकार जबरदस्ती रिटायरमेंट देने पर तुली है, इससे स्थिति और भी भयावह हो जाएगी। सराकरी पदों जो समाप्त कर रोजगार के अवसरों को समाप्त किया जा रहा है। पेंशन बहाली मंच के कोषाध्यक्ष जावेद ने सभी से एकजुट होने की अपील की। उन्होंने कहा हमारी एकजुटता ही सरकार को पुरानी पेंशन देने को मजबूर कर सकती है।

प्राथमिक शिक्षक संघ के जिलाध्यक्ष मनोज तिवारी ने कहा नई पेंशन योजना में जी पी एफ से निकासी की योजना नहीं है। अगर कार्मिक के साथ कोई दुर्घटना हो गयी तो कार्मिक के परिवार को नई पेंशन योजना में किसी भी प्रकार का कोई लाभ नहीं मिलेगा। नई पेंशन स्कीम में कार्मिक के रिटायरमेंट के बाद मिलने वाली समस्त धनराशि आयकर से भी मुक्त नहीं है अर्थात 40 फीसदी धनराशि कार्मिक को मिलेगी ही नहीं संयोजक कौशिक मिश्रा ने कहा कि नई पेंशन योजना में कार्मिक द्वारा जमा की गई धनराशि में भी भारी अनियमितता की खबरें लगातार आ रही हैं जिससे कर्मचारी शिक्षक और भी ज्यादा हतोसहित हो रहा है।

योजना में कार्मिक द्वारा जमा की गई धनराशि में भी भारी अनियमितता की खबरें लगातार आ रही हैं जिससे कर्मचारी शिक्षक और भी ज्यादा हतोसहित हो रहा है।

रुद्रपुर ब्रेकिंग : फांसी के फंदे पर झूली नवविवाहिता, मौत

इस मौके पर नवेन्दू मठपाल, कर्मचारी शिक्षक संघ मंडलीय अध्यक्ष गिरीश मेंदोला, ब्लॉक अध्यक्ष एनएमओपीएस, पंकज, मोहित सिंह, प्रभु ज्योत वालिया, चंदन सिंह, अजय मिश्रा, सिद्धेश्वर चौधरी, कौशिक मिश्रा, घनश्याम रावत, वीरेंद्र प्रसाद पांडे, तेजपाल, आनंद सिंह, प्रकाश चंद फुलोरिया, मयंक सुयाल, केशव दत्त पांडे, रविंद्र कुमार, विनोद जोशी, चारू तिवारी, नवीन चंद, आशा, मनोज तिवारी, जिलाध्यक्ष प्राथमिक शिक्षक मनोज मोहन कश्मीरा, ताराचंद, सौरभ चंद्र पांडे, गौरव शर्मा, मोहन चंद्र व हेम पांडे मौजूद रहे।

हल्द्वानी ब्रेकिंग : हेमंत साहू समेत कई कांग्रेसी कार्यकर्ता हिरासत में, सीएम का कर रहे थे विरोध

Previous articleहल्द्वानी ब्रेकिंग : हेमंत साहू समेत कई कांग्रेसी कार्यकर्ता हिरासत में, सीएम का कर रहे थे विरोध
Next articleनालागढ़ : मनीषा को इंसाफ के लिए दलित समाज एवं शहरवासियों ने निकाली कैंडल मार्च

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here