उत्तराखंडनैनीताल

हल्द्वानी : जयंती पर राज्य आंदोलनकारियों ने किया नारायण दत्त तिवारी को याद

हल्द्वानी। पूर्व मुख्यमंत्री स्वतंत्रता संग्राम सेनानी स्वर्गीय पंडित नारायण दत्त तिवारी के जन्मदिन एवं पुण्यतिथि के अवसर पर आज हल्द्वानी के वुडपैकर रेस्टोरेंट में राज्य आंदोलनकारी मोहन पाठक के नेतृत्व में एक सभा का आयोजन किया गया।

जिसमें सर्वप्रथम पर्वत पुत्र पंडित नारायण दत्त तिवारी के चित्र पर माल्यार्पण कर उन्हें श्रद्धांजलि दी गई। वही उक्त सभा का मकसद यह था कि उत्तराखंड व कुमाऊं में बदहाल हो रही स्वास्थ्य सेवाओं को सही तरीके से चलाना वह हल्द्वानी स्थित सुशीला तिवारी राजकीय चिकित्सालय को एम्स की तर्ज में विकसित करने के लिए वह भविष्य के संघर्ष हेतु चिंतन शिविर का आयोजन हुआ। इस दौरान सैकड़ों की संख्या में पंडित नारायण दत्त तिवारी के समर्थक मौजूद रहे और उन्हें सच्ची श्रद्धांजलि अर्पित की साथ ही वक्ताओं ने सुशीला तिवारी को एम्स की तर्ज में विकसित करने को लेकर भी अपने-अपने विचार रखें वहीं राज्य आंदोलनकारी मोहन पाठक का कहना था कि राष्ट्रीय अंतरराष्ट्रीय राजनीति में दशकों तक पहाड़ का प्रतिनिधित्व करने वाले महान स्वतंत्रता संग्राम सेनानी विकास पुरुष पंडित नारायण दत्त तिवारी के द्वारा उत्तराखंड में उच्च विकास किया गया था।

यहां की जनता इन्हें कभी भुला नहीं सकती है पंडित नारायण दत्त तिवारी को विकास पुरुष ऐसे ही नहीं कहा जाता है उन्होंने कहा कि उनका सुशीला तिवारी को एम्स की तर्ज में बनाने वह कुमाऊं मंडल के तमाम क्षेत्रों में चिकित्सा सुविधा में सुधार हेतु आंदोलन लगातार जारी रहेगा और उन्हें हर जगह क्षेत्रीय जनप्रतिनिधियों व जनता का समर्थन भी मिल रहा है। इस दौरान मुख्य रूप से संध्या डालाकोटी, ललित कांडपाल, कैलाश तिवारी, शंकर जोशी, गोपाल तिवारी, ललित जोशी, लोकेश भट्ट, पूरन जोशी, रूपेंद्र नागर, केदार जोशी, विशाल शर्मा, राकेश जोशी, मयंक भट्ट प्रदीप पाल, राजेन्द्र दुर्गापाल व खजान पांडे सहित तमाम लोग मौजूद थे।

1 नवंबर से बदल जाएगा एलपीजी सिलेंडर की होम डिलीवरी का सिस्टम, लागू होगा नया नियम

Leave a Comment!

error: Content is protected !!