अल्मोड़ा। कम्प्यूटर के माध्यम से आनलाइन खाद्यान्न वितरण के आदेश पर सरकारी सस्ता गल्ला विक्रेताओं में तीव्र आक्रोश बना हुआ है। गल्ला विक्रेताओें ने साफ कर दिया है कि यदि उन पर अनुचित दबाव बनाया गया तो वह 10 मई से खाद्यान्न का उठान व वितरण दोनों बंद कर देंगे। यदि जरूरी हुआ तो गल्ला विक्रेता सामूहिक इस्तीफा देने को भी तैयार हैं।
सरकारी सस्ता गल्ला विक्रेता संघ ​की जिला अल्मोड़ा इकाई की ओर से आज जिला पूर्ति अधिकारी/एसडीएम को दिए ज्ञापन में कहा गया कि वर्तमान में विभाग द्वारा विक्रेताओं से कम्प्यूटर खाद्यान्न वितरण हेतु लगातार अनुचित दबाव बनाया जा रहा है, जबकि इस संबंध में गल्ला विक्रेता पहले ही अपना पक्ष रख चुके हैं। उन्होंने कहा कि वर्तमान में गल्ला विक्रेता अपना कार्य पूरी ईमानदारी और निष्ठा के साथ कर रहे हैं। कोविड—19 महामारी के दौर में पूरा सहयोग दिया जा रहा है। विक्रेता आर्थिक हानि उठा भी कार्य कर रहे हैं। इसके बावजूद प्रशासन और शासन का रवैया ठीक नही है। उन्होंने कहा कि सरकार द्वारा नेट चार्ज का कोई भुगतान नही किया जा रहा है इसलिए कम्प्यूटर के माध्यम से वितरण भी संभव नही है। उन्होंने कहा कि अल्मोड़ा के सभी सस्ता गल्ला विक्रेता अब किसी दबाव के आगे नही झुकेंगे। उन्होंने विगत बैठक के निर्णय का हवाला देते हुए बताया कि यदि अनुुचित दबाव के जरिए उन्हें आनलाइन खाद्यान्न वितरण को कहा जाता है तो 10 मई से खाद्यान्न का उठान व वितरण पूरी तरह बंद कर दिया जायेगा। ज्ञापन में जिलाध्यक्ष दिनेश गोयल, जिला महामंत्री मनोज वर्मा, उपाध्यक्ष नारायण सिंह, जिला कोषाध्यक्ष अभय साह, जिला उपाध्यक्ष केशर सिंह आदि के हस्ताक्षर हैं।

Advertisement

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here