उत्तराखंडदेहरादून

सुशील शर्मा बने एसजेवीएन के निदेशक विद्युत, संभाला कार्यभार

देहरादून। सुशील कुमार शर्मा ने मिनी रत्न शेड्यूल, सार्वजनिक क्षेत्र के उपक्रम एसजेवीएन में निदेशक विद्युत के रूप में कार्यभार ग्रहण किया। इससे पूर्व सुशील कुमार शर्मा एसजेवीएन में 1500 मेगावाट के नाथपा झाकड़ी जल विद्युत स्टेशन में महाप्रबंधक मेकेनिकल के पद पर आसीन थे। शर्मा ने आरके बंसल के दिनांक 31 जुलाई को सेवानिवृत्त होने के पश्चात इस पद पर कार्यभार ग्रहण किया। शर्मा ने वीएनआईटीए नागपुर से बीई मैकेनिकल किया है। शर्मा को एसजेवीएन सहित अन्य संगठनों में 30 वर्षों से अधिक कार्य करने का समृद्ध एवं विस्‍तृत अनुभव हैं।

शर्मा ने वर्ष 1990 में हिमाचल प्रदेश तकनीकी शिक्षा सर्विस से अपना कैरियर आरंभ किया। उन्‍होंने वर्ष 1994 में एसजेवीएन में सहायक अभियंता के रूप में अपना कार्यभार ग्रहण किया तथा कॉर्पोरेट कार्यालय एवं विभिन्न परियोजनाओं में कार्य करते हुए महाप्रबंधक के पद पर पहुंचे। एसजेवीएन में सुशील कुमार शर्मा 1500 मेगावाट नाथपा झाकड़ी परियोजना तथा 412 मेगावाट के रामपुर जल विद्युत परियोजना के डिजाइन एवं निर्माण कार्य से सक्रिय रुप से जुड़े रहे हैं। शर्मा जल विद्युत प्लांट के डिजाइन, इरेक्शन तथा रखरखाव के क्षेत्र में भी गहन अनुभव प्राप्त हैं।

शर्मा ने आरंभ में एसजेवीएन के डिजाइन कार्यालय में कार्य करते हुए विभिन्न परियोजनाओं की आयोजना तथा हाइड्रो—मैकेनिकल कंपोनेंट्स के डिजाइन क्षेत्र में लगभग 19 वर्षों तक कार्य किया। तत्पश्चात उन्होंने 412 मेगावाट रामपुर जल विद्युत स्टेशन के सफलतापूर्वक इरेक्शन तथा कमीशनिंग में भी कई रिकॉर्ड कायम किए। कमीशनिंग के पश्चात शर्मा 412 मेगावाट रामपुर जल विद्युत परियोजना के इलेक्ट्रिकल तथा मैकेनिकल संयंत्रों के रखरखाव के प्रभारी भी रहे। इसी के साथ—साथ सुशील कुमार शर्मा 1500 मेगावाट नाथपा झाकड़ी परियोजना के मैकेनिकल रखरखाव के प्रभारी भी रहे हैं।

Leave a Comment!

error: Content is protected !!