उत्तराखंडऊधमसिंह नगर

किच्छा : चोरों के आतंक से ग्रामीण रात भर जागने को मजबूर

किच्छा। कोतवाली अंतर्गत निकटवर्ती ग्रामों में लगातार हो रही चोरियों से ग्रामीणों में दहशत का माहौल बना हुआ है। ग्रामीण क्षेत्रों में 15 दिन के अंतराल में करीब एक दर्जन से अधिक चोरी की वारदातों को चोरों द्वारा अंजाम दिया जा चुका है। कोतवाली अंतर्गत ग्राम कनकपुर, ग्राम गौरीकला तथा ग्राम प्रतापपुर क्षेत्र में चोरों के आतंक से ग्रामीण रात भर जागने को मजबूर हैं।

विगत रात्रि गांव की सुरक्षा में लगे ग्रामीणों ने तीन संदिग्धों को ग्राम गौरीकला में पकड़ लिया, जबकि पकड़े गए आरोपियों में एक आरोपी मौके से फरार होने में कामयाब हो गया। पकड़े गए दोनों आरोपियों को ग्रामीणों ने कोतवाली पुलिस के सुपुर्द कर दिया है। ग्रामीणों की शिकायत पर पुलिस ने घटना की जांच व कार्यवाही शुरू कर दी है।

जानकारी के अनुसार निकटवर्ती ग्राम प्रतापपुर, कनकपुर तथा गौरीकला क्षेत्र में चोरों का आतंक गत कई दिनों से जारी है। विगत रात्रि चोरों ने ग्राम कनकपुर में पेट्रोल पंप के निकट निवासी आशीष शर्मा तथा पड़ोस धर्मेंद्र यादव के घर में धावा बोलकर मोबाइल व नकदी पर हाथ साफ कर दिया और मौके से फरार हो गए।

चोरों ने ग्राम गौरीकला में गत 9 सितंबर की रात्रि तीन घरों में धावा बोलकर हजारों की नगदी सहित मोबाइल फोन चुरा लिया। चोरों ने ग्राम गौरीकला निवासी अशोक कुमार के घर से एक मोबाइल सहित 3000 रुपए नगद, राम आसरे के घर से 3 मोबाइल व 5000 रुपए नगद तथा भ्रगुनाथ के घर से उसकी बेटी के सोने के दो कुंडल चुरा लिये और मौके से फरार हो गए।

चोरों ने ग्राम गौरीकला निवासी नगीना राम के घर से एक बैग चुरा लिया, जिसमें 2000 की नकदी रखी थी। चोरों ने नकदी निकालने के बाद खाली बैग को खेत में फेंक दिया और मौके से फरार हो गए। अगले दिन ग्रामीणों को नगीना राम के घर से चुराया गया बैग बरामद हुआ। बीती रात्रि ग्राम गौरी कला में संदिग्ध परिस्थितियों में घूम रहे तीन युवकों को ग्रामीणों ने पकड़ लिया।

इस बीच एक आरोपी ग्रामीणों को चकमा देकर मौके से फरार होने में कामयाब हो गया, जबकि पकड़े गए दोनों आरोपियों को ग्रामीणों ने कोतवाली पुलिस के सुपुर्द करते हुए क्षेत्र में हुई चोरियों का खुलासा करने तथा रात्रि गश्त बढ़ाई जाने की मांग की। ग्रामीण क्षेत्रों में लगातार हो रही चोरियों से ग्रामीणों में भय का माहौल बना हुआ है और पुलिस प्रशासन के प्रति भारी रोष व्याप्त है।

Leave a Comment!

error: Content is protected !!