अपडेट : सोचने तक का मौका नहीं मिला तहसीलदार सुनैना राणा को, बामुश्किल मिले नहर में शव, विधानसभा अध्यक्ष ने किया शोक व्यक्त

3

📰 खबरों के लिए जुड़े व्हाट्सप्प ग्रुप से 👉 Click Now 👈

नजीबाबाद/देहरादून। नैनीताल से लौट रही रुड़की की तहसीलदार सुनैना राणा, उनके अर्दली ओमपाल सिंह और ड्राइवर सुंदर की सरवनपुर नहर में डूबने से मौत हो गई। देर शाम उनकी कार अनियंत्रित होकर नहर में जा गिरी।

उत्तराखंड विधानसभा अध्यक्ष प्रेमचंद अग्रवाल ने हादसे में रुड़की की तहसीलदार सुनैना राणा सहित तीन लोगों की मौत पर गहरा शोक व्यक्त किया है। इधर, स्थानीय लोगों की मदद से तीनों के शवों को व क्रेन से बोलेरो को नहर से बाहर निकाला गया। तहसीलदार सुनैना राणा नैनीताल में एक प्रशिक्षण कार्यक्रम में भाग लेकर लौट रही थी।


इस दौरान उनकी बोलेरो कार अचानक कार अनियंत्रित होकर नहर की रेलिंग तोड़ते हुए नहर में जा गिरी। जिससे तीनों की नहर में डूबने से मौत हो गई। इदर, हादसे पर दुख व्यक्त करते हुए उत्तराखंड विधानसभा अध्यक्ष प्रेमचंद अग्रवाल ने दिवंगत आत्माओं की शांति के लिए प्रार्थना की है साथ ही तहसीलदार सुनैना राणा सहित अन्य मृतकों के परिजनों के प्रति अपनी सांत्वना व्यक्त की है।

किएटिव न्यूज एक्सप्रेस की खबरों को अपने मोबाइल पर पाने के लिए लिंक को दबाएं

Previous articleरुद्रपुर ब्रेकिंग : आईपीएल मैच में सट्टा लगाते गदरपुर के नेता समेत रुद्रपुर के चार नामी लोग गिरफ्तार
Next articleब्रेकिंग न्यूज : देहरादून से चमोली के घाट जा रही बोलेरो नंदाकिनी में समाई, चालक की मौत, एक ही परिवार के चार सदस्यों समेत सात घायल

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here